inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश पीलीभीत: शारदा नदी के धनाराघाट पर पैन्‍टून पुल का संचालन शुरू, लेकिन...

पीलीभीत: शारदा नदी के धनाराघाट पर पैन्‍टून पुल का संचालन शुरू, लेकिन रास्ता बेहाल

बरेली: विडंबना, दो दिन पहले जिसे डोली में बिठाया, उसी बिटिया की अर्थी उठानी पड़ी पिता को

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। शादी के दो दिन बाद ही ससुराल में अनहोनी का शिकार हुई शिवानी के पिता ने पति और उसके घरवालों पर...

बरेली: हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाहन स्वामियों के लिए बनी सर दर्द

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (एचएसआरपी) को ऑनलाइन आवेदन करने में लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस...

एटा: निःशुल्क नेत्र शिविर में पुलिस ने कराया चालकों का चेकअप

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के एटा जिले में नि-शुल्‍क नेत्र शिविर का आयोजन किया गया। इस मौके पर पुलिस ने वाहन चालकों का चेकअप कराया।...

संभल: केन्द्र सरकार के तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस लेने के लिए गरजे किसान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। केन्द्र सरकार द्वारा पारित कराए गए तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस कराने की मांग करते हुए किसानों ने सडक पर जाम...

संभल: खिलाड़ियों को जल्द मिलेंगी अत्याधुनिक सुविधाएं, खेल मैदान का अफसरों ने किया निरीक्षण

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के संभल जिले में खिलाड़ियों को सुविधाएं मुहैया कराने की कवायद तेज हो गई है। शनिवार को अफसरों ने खेल...

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के पीलीभीत जिले की पूरनपुर तहसील से सटे ट्रांस शारदा क्षेत्र में बने पैण्‍टून पुल का संचालन तो शुरू हो गया लेकिन पैण्‍टून पुल तक पहुंचने वाला रास्‍ता बदहाल है। गौरतलब है कि शारदा पार के इलाकों में जाने वाली हजारों की आबादी इसी पैण्‍टून पुल के जरिए ही आवाजाही करती है। यहां के वाशिन्‍दों को जिला मुख्‍यालय से जोड़ने वाला यही एक मात्र मार्ग है।

बारिश के मौसम में पैण्‍टून पुल हट जाने के बाद शारदा पार के इलाकों का जिला मुख्‍यालय से सम्‍पर्क लगभग कट जाता है तब यहां के लोगों को लगभग सौ किलोमीटर का लंबा चक्‍कर काटकर लखीमपुर की पलिया तहसील होते हुए जिला मुख्‍यालय पहुंचना पड़ता है। पैण्‍टून पुल तक पहुंचने वाले रास्‍ते पर जगह जगह गहरे गड्डे हादसे को दावत दे रहे है। विभाग ने पुल बनाने का ठेका दिया था लेकिन ठेकेदार ने मनमानी के मुताबिक काम कराया।

ठेकेदार द्रारा रास्ते को भी ठीक नही कराया गया है। खास बात यह है लोक निर्माण विभाग की लचर व्यवस्था के चलते पुल की साइडों में रोकथाम के लिए रैलिंग नहीं की गई है। इतना ही नहीं रेत के रास्ते में लोहे की चादर डलवाने का काम भी पूरा नहीं कराया गया है। इसके अलावा दोनों पुलों के मध्य रास्ते के गड्डों का भराव तक नहीं कराया गया है। इससे दुर्घटना होने की आशंका बनी हुई है।

इस पुल के शुरू होने से हजारा क्षेत्र में बसी पौने दो लाख की आबादी को लंबा चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। लेकिन ठेकेदार ने रास्ते पर भराव तक नही कराया जिससे क्षेत्र के जनता है पलिया होकर पीलीभीत जाने में असमर्थ है,पुल से दोपहिया और चौपहिया वाहनों का आवागमन शुरू कर दिया गया है। हालांकि रास्‍तों में गहरे गड्डे होने से बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

Related News

बरेली: विडंबना, दो दिन पहले जिसे डोली में बिठाया, उसी बिटिया की अर्थी उठानी पड़ी पिता को

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। शादी के दो दिन बाद ही ससुराल में अनहोनी का शिकार हुई शिवानी के पिता ने पति और उसके घरवालों पर...

बरेली: हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाहन स्वामियों के लिए बनी सर दर्द

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (एचएसआरपी) को ऑनलाइन आवेदन करने में लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस...

एटा: निःशुल्क नेत्र शिविर में पुलिस ने कराया चालकों का चेकअप

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के एटा जिले में नि-शुल्‍क नेत्र शिविर का आयोजन किया गया। इस मौके पर पुलिस ने वाहन चालकों का चेकअप कराया।...

संभल: केन्द्र सरकार के तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस लेने के लिए गरजे किसान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। केन्द्र सरकार द्वारा पारित कराए गए तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस कराने की मांग करते हुए किसानों ने सडक पर जाम...

संभल: खिलाड़ियों को जल्द मिलेंगी अत्याधुनिक सुविधाएं, खेल मैदान का अफसरों ने किया निरीक्षण

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के संभल जिले में खिलाड़ियों को सुविधाएं मुहैया कराने की कवायद तेज हो गई है। शनिवार को अफसरों ने खेल...

संभल: जाको राखे साईयां, मार सके ना कोय, नीरज को मोहम्मद फैसल ने रक्तदान कर बचाई जान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। एक ओर जहां धर्म और जाति की राजनीति समाज में जहर घोलने का घिनौना कार्य करने से बाज नहीं आते। वहीं...