वोडाफोन आइडिया के 5जी एंट्री पर मार्केटिंग नौटंकी होने का खतरा

नई दिल्ली, 6 अगस्त (आईएएनएस)। वोडाफोन आइडिया लिमिटेड (वीआईएल) अपने 5जी नेटवर्क के लिए कुछ खास नहीं कर रहा है। लगता है 5जी में निवेश बेहतर गुणवत्ता वाले नेटवर्क बनाने के बजाय ग्राहकों को खोने से बचाने के लिए किया गया है। बोफा सिक्योरिटीज ने एक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी है।
 | 
वोडाफोन आइडिया के 5जी एंट्री पर मार्केटिंग नौटंकी होने का खतरा नई दिल्ली, 6 अगस्त (आईएएनएस)। वोडाफोन आइडिया लिमिटेड (वीआईएल) अपने 5जी नेटवर्क के लिए कुछ खास नहीं कर रहा है। लगता है 5जी में निवेश बेहतर गुणवत्ता वाले नेटवर्क बनाने के बजाय ग्राहकों को खोने से बचाने के लिए किया गया है। बोफा सिक्योरिटीज ने एक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी है।

वीआईएल ने सबसे कम 22 सर्किलों में से 17/16 सर्किलों में 3300मेगाहट्र्ज/26गीगाहट्र्ज बैंड में 5जी स्पेक्ट्रम के लिए बोली लगाई।

वीआईएल की कमजोर बैलेंस शीट को देखते हुए, बोफा सिक्योरिटीज का मानना है कि मध्यम अवधि में, वीआईएल को 5जी स्पेस में भारती/जियो की तुलना में पर्याप्त स्पेक्ट्रम की कमी के कारण नुकसान हो सकता है।

chaitanya

इसने आगे कहा, हम इसके 5जी की बोली को एक मार्केटिंग नौटंकी के रूप में भी देख रहे हैं, जिसमें बेहतर गुणवत्ता वाले नेटवर्क बनाने की तुलना में ग्राहकों को रोकने के लिए निवेश किया गया है।

रिपोर्ट में कहा गया है, अगर अन्य दूरसंचार कंपनियों के पास बेहतर 5जी नेटवर्क हैं, तो हम कंपनी को समय के साथ अपने हाई-एंड सब्सक्रिप्शन को खोने के अधिकतम जोखिम के रूप में देखेंगे।

नोमुरा ने एक रिपोर्ट में कहा कि वोडाफोन आइडिया के लिए 5 जी रोलआउट/मार्केट शेयर डिफेंस के लिए बाहरी फंड जुटाना महत्वपूर्ण है।

नोमुरा ने कहा, वीआई ने अपने प्राथमिकता वाले सर्किलों में 5जी स्पेक्ट्रम हासिल करने के लिए हालिया स्पेक्ट्रम नीलामी में 188 अरब रुपये खर्च किए। हालांकि, वीआई की मौजूदा नकद ईबीआईटीडीए रन-रेट (84 अरब रुपये) कैपेक्स को सार्थक रूप से बढ़ाने के लिए अपर्याप्त है, बड़े आगामी ऋण चुकौती (70 अरब रुपये) और बाहरी फंड जुटाने में भी देरी से हमें लगता है कि वीआई के 5जी रोलआउट निकट अवधि में बाधित रहेंगे।

दूसरे संचालकों द्वारा 5जी रोलआउट लागू करने से वीआई के लिए बाजार हिस्सेदारी कायम रखना मुश्किल हो सकता है।

गोल्डमैन सैक्स ने एक रिपोर्ट में कहा, वोडाफोन आइडिया का ईबीआईटीडीए, हालांकि बढ़ रहा है, लेकिन हम मानते हैं कि कंपनी को अपने पुनर्भुगतान दायित्वों को पूरा करने की आवश्यकता होगी। हम जून 2023 तक वोडाफोन आइडिया के लिए 40 अरब रुपये की नकदी की कमी का अनुमान लगाते हैं। सब्सक्राइबर आधार में गिरावट जारी है और कमजोर एफसीएफ और बैलेंस शीट प्रोफाइल के साथ वोडाफोन आइडिया की कैपेक्स को सार्थक रूप से बढ़ाने की क्षमता के साथ, हम कंपनी के बाजार हिस्सेदारी के लिए और जोखिम की उम्मीद करते हैं।

क्रेडिट सुइस ने एक रिपोर्ट में कहा, अप्रैल/मई-22 ट्राई संख्या और 2023 की पहली तिमाही में 34 लाख शुद्ध ग्राहक हानि के आधार पर, हमारा अनुमान है कि वीआईएल ने जून 2022 में 11 लाख ग्राहकों को खो दिया है, जो मई में 8 लाख से अधिक है।

स्पेक्ट्रम नीलामी के बाद वोडाफोन आइडिया ने एक बयान में कहा, हमने अपने पैन-इंडिया 4जी फुटप्रिंट को मजबूत करने के लिए स्पेक्ट्रम नीलामी में सक्रिय रूप से भाग लिया और अपने दीर्घकालिक ²ष्टिकोण के अनुरूप देश में अपनी 5जी रोल-आउट यात्रा शुरू की। हमने अपने 17 प्राथमिकता वाले सर्किलों में मिड बैंड 5जी स्पेक्ट्रम (3300 मेगाहट्र्ज बैंड) और 16 सर्किलों में एमएमवेव 5जी स्पेक्ट्रम (26 गीगाहट्र्ज बैंड) का सफलतापूर्वक अधिग्रहण कर लिया है, जो हमें अपने ग्राहकों को बेहतर 5जी अनुभव प्रदान करने के साथ-साथ अपने उद्यम को मजबूत करने में सक्षम बनाएगा।

आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और पंजाब के तीन सर्किलों में अतिरिक्त 4जी स्पेक्ट्रम अधिग्रहण से ग्राहकों के अनुभव में और सुधार होगा। एक ऐसा क्षेत्र जहां हम पिछली कई तिमाहियों से लगातार थर्ड पार्टी की रिपोर्टों के अनुसार लीग तालिका में अग्रणी रहे हैं। हमारा मानना है कि उपरोक्त स्पेक्ट्रम अधिग्रहण से हमें अपने प्रमुख बाजारों में अपनी स्थिति मजबूत करने में मदद मिलेगी और यह हमारे दीर्घकालिक रणनीतिक इरादे के साथ अच्छी तरह से मेल खाएगा।

कंपनी ने कहा कि इसके साथ, अब हमारे पास अपने सभी प्राथमिकता वाले सर्किलों में सभी बैंडों में स्पेक्ट्रम का एक ठोस पोर्टफोलियो है। हमें वोडाफोन ग्रुप के वैश्विक अनुभव का लाभ उठाने का भी फायदा है, जिसने कई बाजारों में 5जी को तैनात करने में विशेषज्ञता साबित की है। हम अपने भविष्य के लिए तैयार नेटवर्क में निवेश करना जारी रखेंगे, ताकि भविष्य में हमारे ग्राहकों के लिए 5जी सेवाओं को रोल आउट करने के लिए इसे अपग्रेड किया जा सके।

--आईएएनएस

एसकेके/एसकेपी