विश्व तम्बाकू निषेध दिवस: आज ही छोड़े तम्बाकू उत्‍पाद का सेवन, देश में हर रोज मरने वालों की संख्‍या जानकर रह जाएंगे हैरान

बीड़ी-सिगरेट व अन्य तम्बाकू उत्पादों पर काबू पाने के लिए सरकार और स्वास्थ्य विभाग (Government and Health Department) के साथ अन्‍य संस्थाएं भी लोगों को जागरूक करने का काम कर रहीं हैं। हर वर्ष 31 मई को विश्व तम्बाकू निषेध दिवस (World No Tobacco Day) मनाया जाता है। इसके जरिए लोगों को तम्बाकू के खतरों से सचेत किया जाता है। इस बार कोरोना संक्रमण के चलते जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन संभव नहीं है। इसलिए सोशल मीडिया और रेडियो पर प्रसारण व विज्ञापनों (Advertisements) के जरिये धूम्रपान के खतरों से लोगों को जागरूक जाएगा।

Anti-tobacco-Dayइस बार कार्यक्रम की थीम (Event theme) को युवाओं पर तैयार किया गया है। “प्रोटेक्टिंग यूथ फ्रॉम इंडस्ट्री मैनिपुलेशन एंड प्रिवेंटिंग देम फ्रॉम टोबैको एंड निकोटिन यूज”। स्टेट टोबैको कंट्रोल सेल के सदस्य व किंग जार्ज चिकित्सा विश्विद्यालय के रेस्परेटरी मेडिसिन विभाग के अध्यक्ष डॉ. सूर्यकांत ने बताया कि बीड़ी-सिगरेट व अन्य तम्बाकू उत्पादों (Tobacco products) के सेवन से हमारे देश में हर दिन करीब तीन हजार लोग मर रहे हैं। सरकार इसको रोकने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें