विश्व का अगला बिग टेक भारत से निकलेगा - लोक सभा अध्यक्ष

रुड़की/नई दिल्ली, 25 नवंबर (आईएएनएस)। लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला ने विज्ञान और टेक्नोलॉजी की शक्ति से देश के आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर होने की बात कहते हुए दावा किया है कि विश्व का अगला बिग टेक भारत से ही निकलेगा।
 | 
विश्व का अगला बिग टेक भारत से निकलेगा - लोक सभा अध्यक्ष रुड़की/नई दिल्ली, 25 नवंबर (आईएएनएस)। लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला ने विज्ञान और टेक्नोलॉजी की शक्ति से देश के आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर होने की बात कहते हुए दावा किया है कि विश्व का अगला बिग टेक भारत से ही निकलेगा।

बिरला ने शुक्रवार को आईआईटी रुड़की के 175वें स्थापना दिवस को सम्बोधित करने के दौरान आईआईटी को प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में देश का शीर्ष संस्थान बताते हुए कहा कि जलवायु, पर्यावरण, मेडिकल, शिक्षा, संचार, सड़क से लेकर जीवन के कई क्षेत्रों में आईआईटी के अनुसंधान व आविष्कारों ने देश और समाज को नई दिशा दी है। चौथी औद्योगिक क्रांति का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा की डिजिटल युग और इंटरनेट क्रांति ने पूरे विश्व को बदल दिया है। इस डिजिटल युग में देश का आम नागरिक अधिक सक्रियता से लोकतंत्र में भागीदार बन रहा है। आज वैश्विक स्तर पर भी भारत के युवा नेतृत्व कर रहे हैं और नवाचार, नई तकनीक, एवं शोध के क्षेत्र में विश्व की सबसे जटिल समस्याओं के निवारण में अपना योगदान दे रहे हैं।

chaitanya

कोरोना काल के भीषण संकट के दौर का उल्लेख करते हुए लोक सभा अध्यक्ष ने कहा कि वैश्विक महामारी के दौर में भारतीय युवाओं ने सिद्ध कर दिया कि विज्ञान और तकनीक की शक्ति से देश आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर है। भारत आज सम्पूर्ण विश्व में स्टार्टअप के केंद्र के रूप में जाना जाता है, जो वैश्विक चुनौतियों के साथ साथ देश की अर्थव्यवस्था को भी आगे बढ़ा रहे हैं। उन्होंने भारत के युवा वर्ग की कार्यकुशलता पर विश्वास व्यक्त करते हुए दावा किया कि विश्व का अगला बिग टेक भारत से ही निकलेगा।

भारत की प्राचीनतम लोकतान्त्रिक व्यवस्था की प्रशंसा करते हुए लोक सभा अध्यक्ष ने कहा कि भारत का लोकतंत्र एवं विविधता देश की शक्ति है।पिछले सात दशकों में देश की प्रगति का जिक्र करते हुए बिरला ने कहा कि भारत के वैज्ञानिक, चिकित्सक, व्यवसायी और युवा पूरे विश्व में भारत की पहचान बना रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि आज भारत की साख दुनिया में एक विश्वसनीय लोकतंत्र और उभरती अर्थव्यवस्था के रूप में स्थापित हुई है।

--आईएएनएस

एसटीपी/एएनएम