लचित बरफुकन की 400वीं जयंती समारोह में शामिल होंगे अमित शाह

नई दिल्ली, 23 नवंबर (आईएएनएस)। असम सरकार अहोम साम्राज्य के सेनापति लचित बरफुकन की 400वीं जयंती पर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बड़े स्तर पर समारोह आयोजित कर रही है। दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित होने वाले इस समारोह में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी शामिल होंगे।
 | 
लचित बरफुकन की 400वीं जयंती समारोह में शामिल होंगे अमित शाह नई दिल्ली, 23 नवंबर (आईएएनएस)। असम सरकार अहोम साम्राज्य के सेनापति लचित बरफुकन की 400वीं जयंती पर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बड़े स्तर पर समारोह आयोजित कर रही है। दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित होने वाले इस समारोह में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी शामिल होंगे।

बता दें कि 24 नवंबर को लचित बरफुकन का जन्म हुआ था, जिन्होंने मुगल सेना से लड़ाई लड़कर उनके असम पर कब्जा करने के प्रयास को विफल किया था।

दिल्ली के विज्ञान भवन में 24 नवंबर को असम सरकार की तरफ से लचित दिवस का आयोजन किया जा रहा है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह इस आयोजन के पूर्ण सत्र में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल होंगे। विज्ञान भवन में अहोम वंश के महान योद्धा लचित बरफुकन की 400वीं जयंती पर भव्य कार्यक्रम के साथ अहोम वंश के 600 साल पुराने इतिहास पर प्रदर्शनी का आयोजन भी किया जा रहा है।

chaitanya

दरअसल असमिया संस्कृति को लोकप्रिय बनाने के लिए असम सरकार ने हर साल देश के विभिन्न हिस्सों में लचित दिवस आयोजित करने का फैसला किया है। इसकी शुरूआत नई दिल्ली से की जा रही है। लचित बरफुकन को पूर्वोत्तर का शिवाजी भी कहा जाता है।

गौरतलब है कि लचित बरफुकन पूर्ववर्ती अहोम साम्राज्य में एक सेनापति थे और सरायघाट के 1671 के युद्ध में उनके नेतृत्व के लिए उन्हें पहचाना जाता है। इस युद्ध में मुगल सेना द्वारा असम पर कब्जा करने का प्रयास उन्होंने विफल कर दिया था। लगभग एक साल बाद उनकी मृत्यु हो गई थी। सरायघाट का युद्ध गुवाहाटी में ब्रह्मपुत्र नदी के तटों पर लड़ा गया था।

--आईएएनएस

एसपीटी/एएनएम