inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए बच्चे को न दें डिब्बा बंद...

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए बच्चे को न दें डिब्बा बंद दूध, जानें क्‍या है वजह

कौशांबी: बहन के घर शादी में आई महिला ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

न्यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के कौशांबी में एक माहिला ने फांसी लगाकर आत्म हत्या कर ली है। महिला अपनी बहन के घर शादी में...

बदायूूं: डीएम एसएसपी ने संपूर्ण समाधान दिवस में सुनी जन शिकायतें

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के बदायूं जिले में बुधवार को सम्पूर्ण समाधान दिवस जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी...

जानिए, मेनका गांधी को क्यों आया गुस्सा, फोन पर किससे कहा, एक नंबर के चोर और मक्‍कार हो

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। अपने संसदीय क्षेत्र में रिश्‍वत लेने की शिकायत पर सुलतानपुर से सांसद और पूर्व केन्‍द्रीय मंत्री मेनका गांधी को गुस्‍सा आ...

बरेली: डीएम गए थे नदी का काम देखने, स्कूल पर छापा मारा तो मास्टर मिले गैरहाजिर, फिर चढ़ गया डीएम का पारा

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के बरेली जिले में डीएम नीतीश कुमार ने सरकारी स्‍कूल पर अचानक छापा मारा तो स्‍टाफ गायब मिला। इसके बाद...

एटाःलूट की योजना बना रहे दो शातिर अपराधी गिरफ्तार

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के एटा जिले से पुलिस ने लूट की योजना बना रहे दो शातिर बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। अपराधियों...

चिकित्सकों के अनुसार कोरोना वायरस की महामारी से बचने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immunity) बढ़ाना बहुत जरूरी है। वहीं दो वर्ष तक के बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए मां का दूध सबसे उत्तम है। इस दौरान बच्चों को डिब्बा बंद दूध या कृत्रिम आहार (Canned milk or artificial food) ना दें। लॉक डाउन के दौरान कुछ समाज सेवी संस्थाएं जो राहत का कार्य कर रही हैं वह कुछ जगहों पर डिब्बा बंद दूध और कृत्रिम आहारवितरण कर रही हैं। मुख्यालय के आदेश के बाद से डिब्बा बंद दूध और कृत्रिम आहार के वितरण पर रोक लगा दी है।
Milk Brands sampling in haldwani/बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग के निदेशक शत्रुघ्न सिंह ने सूबे के सभी डीएम को पत्र लिखकर दो वर्ष की आयु तक के सभी बच्चों को डिब्बा बंद दूध देने पर पाबंदी (Restriction) लगाने के निर्देश दिए हैं। जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि मां का दूध बच्चे को स्वस्थ रखता है। उन्होंने बताया कि मां अपने नवजात बच्चे को डिब्बा बंद दूध या आहार बिना डॉक्टर की सलाह के न दें। बच्चे के जन्म के एक घंटे के भीतर स्तनपान (breastfeeding) जरूर कराएं।

डिब्बाबंद दूध से नुकसान
मेरठ जिला महिला अस्पताल के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. आनंद प्रकाश ने बताया कि डिब्बा बंद दूध बहुत भारी होता है। इसे पीने से बच्चे को दस्त, सीने और कान में संक्रमण हो सकता है। कई बार यूरिन इन्फेक्शन (infection) का भी खतरा रहता है। इसके अलावा बच्चे में मोटापे की समस्या हो सकती है। उन्होंने बताया कि मां के दूध में बच्चे के विकास और स्वस्थ रखने के लिए सभी पोषक तत्व (Nutrients) मौजूद होते हैं।

Related News

कौशांबी: बहन के घर शादी में आई महिला ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

न्यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के कौशांबी में एक माहिला ने फांसी लगाकर आत्म हत्या कर ली है। महिला अपनी बहन के घर शादी में...

बदायूूं: डीएम एसएसपी ने संपूर्ण समाधान दिवस में सुनी जन शिकायतें

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के बदायूं जिले में बुधवार को सम्पूर्ण समाधान दिवस जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी...

जानिए, मेनका गांधी को क्यों आया गुस्सा, फोन पर किससे कहा, एक नंबर के चोर और मक्‍कार हो

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। अपने संसदीय क्षेत्र में रिश्‍वत लेने की शिकायत पर सुलतानपुर से सांसद और पूर्व केन्‍द्रीय मंत्री मेनका गांधी को गुस्‍सा आ...

बरेली: डीएम गए थे नदी का काम देखने, स्कूल पर छापा मारा तो मास्टर मिले गैरहाजिर, फिर चढ़ गया डीएम का पारा

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के बरेली जिले में डीएम नीतीश कुमार ने सरकारी स्‍कूल पर अचानक छापा मारा तो स्‍टाफ गायब मिला। इसके बाद...

एटाःलूट की योजना बना रहे दो शातिर अपराधी गिरफ्तार

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के एटा जिले से पुलिस ने लूट की योजना बना रहे दो शातिर बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। अपराधियों...

कुशीनगरः बेकाबू बोलेरो ने मजदूर को कुचला मौके पर मौत

न्यूज टुडे नेटवर्क। यूपी में खराब सड़के और बेकाबू वाहनों के कारण सड़क दुर्घटना बढ़ती ही जा रही है। लेकिन न ही सरकार सड़क...