Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश रुहेलखंड विश्वविद्यालय में तैयार हुआ उत्‍तर भारत का अत्याधुनिक एथलेटिक्स ट्रैक

रुहेलखंड विश्वविद्यालय में तैयार हुआ उत्‍तर भारत का अत्याधुनिक एथलेटिक्स ट्रैक

बड़ा बाजार में धधकी आग ,लगातार हो रहे हैं शहर में अग्निकांड

बरेली ब्रेकिंग बरेली लेटेस्ट न्यूज़ । गली नवाबन में पर्स के गोदाम में लगी भीषण आग, लाखो रुपये का माल जलकर खाक , मौके पर...

यूपी सरकार लव जिहाद की घटनाओं पर लगाएगी रोक, बनाएगी कानून

उत्तर प्रदेश में प्यार और शादी के नाम पर युवतियों का धर्म परिवर्तन कराने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई (action) की जाएगी। लव...

KBC-12: जल्द ही खत्म होगा ‘कौन बनेगा करोड़पति’ का इंतजार, जानें प्रसारण की तारीख

टीवी के पॉपुलर रिएलिटी गेम शो 'कौन बनेगा करोड़पति' का इंतजार अब खत्म होने वाला है। केबीसी-12 (KBC 12) का बेसब्री से इंतजार कर...

Paytm: गूगल ने प्ले स्टोर से पेटीएम को हटाया, जानिए हटाने की वजह

प्ले स्टोर के नीतियों का उल्लंघन करने पर गूगल ने अपने स्टोर से पेटीएम को हटा दिया है। प्ले स्टोर पर एंड्रॉयड यूजर (Android...

Bareilly: अवैध निर्माण पर चली जेसीबी मशीन, चंद देर में ढा गए आशियाने

शहर में जमीनों पर अवैध कब्जा बढ़ता ही जा रहा है। कई बार शिकायत करने पर भी नगर निगम लापरवाही बरत रहा है। ऐसा...

बरेली: रुहेलखंड विश्वविद्यालय (Rohilkhand University) में सिंथेटिक एथलेटिक्स ट्रैक का काम पूरा हो चुका है। जल्द ही इस पर एथलेटिक्स दौड़ते नजर आएंगे। पिछले एक साल से इस सिंथेटिक एथलेटिक्स ट्रैक (Synthetic athletics track)का काम चल रहा था, जो अब खत्‍म हो चुका है।
MJPRU Synthetic Groundइस सिंथेटिक ट्रैक को रुहेलखंड रीजन के खिलाड़ियों (Players) के लिए तैयार किया गया है। जिन्हें राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय (National and international) स्‍तर की प्रतियोगितओं के लिए तैयार किया जाएगा। यह सिंथेटिक ट्रैक 400 मीटर का है जिसे तैयार करने में लगभग 8 करोड रुपए खर्च किए गए। इस ट्रैक पर रबर की कोटिंग भी की गई है। ट्रैक पर पानी ना रुके इसके लिए ड्रेनेज सिस्टम (Drainage system) भी लगाया गया है। इस ट्रैक में हर 50 मीटर पर एक सेंसर (Sensor) होगा जो धावक की स्पीड और उसके स्टैमिना का परीक्षण करेगा। कीड़ा सचिव प्रो. एके जेटली ने कहा ट्रैक पर मार्किंग का काम अभी बाकी है। यह सिंथेटिक एथलेटिक्स ट्रैक उत्तर भारत के विकसित सिंथेटिक ट्रैकों में से एक होगा।

सिंथेटिक ट्रैक के चारों ओर बैरिकेडिंग (Barricading) है। इसमें तीन प्रवेश गेट होंगे। विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से अपने खिलाड़ियों की प्रैक्टिस के लिए कोई शुल्क नहीं रखा गया है। वहीं बाहरी खिलाड़ियों के लिए शुल्क तय किया जाएगा। जिसका निर्णय खेल विभाग और वित्त विभाग लेंगे।

विश्वविद्यालय करेगा नेशनल एथलेटिक्स की मेजवानी

Uttarakhand Government

इस एथलेटिक्स ट्रैक के तैयार होने से रुहेलखंड विश्वविद्यालय को नेशनल एथलेटिक्स प्रतियोगिताओं (Competitions) की मेजबानी भी मिल सकेगी। 2020 में होने वाले अंतर महाविद्यालय एथलेटिक्स प्रतियोगिता इसी ट्रैक पर होगी। क्रीड़ा सचिव प्रो. एके जेटली ने जानकारी दी सिंथेटिक एथलेटिक ट्रेक बनकर तैयार है। इसमें अभी मार्किंग का काम बाकी है। जो कुछ दिनों में पूरा हो जाएगा। इसके साथ ही अगले 10 दिन में ट्रक को धावकों के लिए शुरु कर दिया जाएगा।

Related News

बड़ा बाजार में धधकी आग ,लगातार हो रहे हैं शहर में अग्निकांड

बरेली ब्रेकिंग बरेली लेटेस्ट न्यूज़ । गली नवाबन में पर्स के गोदाम में लगी भीषण आग, लाखो रुपये का माल जलकर खाक , मौके पर...

यूपी सरकार लव जिहाद की घटनाओं पर लगाएगी रोक, बनाएगी कानून

उत्तर प्रदेश में प्यार और शादी के नाम पर युवतियों का धर्म परिवर्तन कराने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई (action) की जाएगी। लव...

KBC-12: जल्द ही खत्म होगा ‘कौन बनेगा करोड़पति’ का इंतजार, जानें प्रसारण की तारीख

टीवी के पॉपुलर रिएलिटी गेम शो 'कौन बनेगा करोड़पति' का इंतजार अब खत्म होने वाला है। केबीसी-12 (KBC 12) का बेसब्री से इंतजार कर...

Paytm: गूगल ने प्ले स्टोर से पेटीएम को हटाया, जानिए हटाने की वजह

प्ले स्टोर के नीतियों का उल्लंघन करने पर गूगल ने अपने स्टोर से पेटीएम को हटा दिया है। प्ले स्टोर पर एंड्रॉयड यूजर (Android...

Bareilly: अवैध निर्माण पर चली जेसीबी मशीन, चंद देर में ढा गए आशियाने

शहर में जमीनों पर अवैध कब्जा बढ़ता ही जा रहा है। कई बार शिकायत करने पर भी नगर निगम लापरवाही बरत रहा है। ऐसा...

UPSEE Exam 2020: इस तारीख से होंगी प्रदेश के सभी पॉलिटेक्निक कॉलेजों की सेमेस्टर परीक्षाएं

प्रदेश के सभी पॉलिटेक्निक कॉलेजों (Polytechnic Colleges) में सेमेस्टर परीक्षाएं 25 सितंबर से शुरू होंगी। इसमें 50 सरकारी और 19 सहायता प्राप्त संस्थानों के...