Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तराखंड रुद्रपुर-मेडिकल सार्टिफिकेट के लिए रात भर लाइन में लगते हैं बेरोजगार

रुद्रपुर-मेडिकल सार्टिफिकेट के लिए रात भर लाइन में लगते हैं बेरोजगार

विजय भूषण बने ओमैक्स सोसायटी के निर्विरोध अध्यक्ष बने

रुद्रपुर। ओमेक्स रिवेरा वेलफेयर एसोसिएशन के चुनाव में शहर के प्रतिष्ठित व्यापारी विजय भूषण गर्ग निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए । त हासिल की है। विजय...

सीएम ने बाजपुर के हजारों किसानों के चेहरों पर इस तरह ला दी मुस्कान

रुद्रपुर । ऊधमसिंह नगर जिले की तहसील बाजपुर क्षेत्र में हजारों एकड़ भूमि पर खरीद फरोख्त पर रोक लगाने के बाद आंदोलित किसानों के...

देहरादून- नहीं थम रही उत्तराखंड में कोरोना की रफ्तार, पढ़े आज का ताज़ा अपडेट

उत्तराखंड में कोरोना का कहर लगातार बड़ता जा रहा है। प्रदेश में कोरोना का आकड़ा 38007 पर पहुंच गया है। शुक्रवार को जारी स्वास्थ्य...

पिथौरागढ़- आपदा प्रभावितों को मिलेगा मुआवजा, पीड़ितों के चेहरे पर ऐसे लौटी मुस्कान

राज्य सरकार के साढ़े तीन वर्ष का कार्यकाल पूरा होने के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पिथौरागढ़ में आपदा प्रभावितों को मकान की...

देहरादून- साढ़े तीन साल में त्रिवेन्द्र सरकार ने ऐसे किये 85 प्रतिशत वादे पूरेए पढिय़े कैसे किया स्वरोजगार पर फोकस

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राज्य सरकार के साढ़े तीन वर्ष पूर्ण हो जाने बाद अपने 85 प्रतिशत वायदे पूरे किये है। मुख्मंत्री ने...
Uttarakhand Government

रुद्रपुर । कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के दौरान सिडकुल की फैक्ट्रियों में नौकरी पाने के लिए बेरोजगारों को पहले अपनी जान जोखिम में डालकर पूरी रात खुले आसमान के नीचे बितानी पड़ रही है, क्योंकि उन्हें एक अदद मेडिकल सार्टिफिकेट की दरकार होती है । कोरोना निगेटिव मेडिकल बनाने का जिम्मा ईएसआईसी को सौंपा गया है, जहाँ सार्टिफिकेट के लिए रात से ही लाइन लगती है । लाइन में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो पा रहा है, लेकिन इसे देखने वाला कोई नहीं है ।
दरअसल सिडकुल की फैक्ट्रियों में नौकरी के लिए मेडिकल सार्टिफिकेट को अनिवार्य कर दिया गया है । स्थिति यह है कि नौकरी पर जाने के लिए बड़ी संख्या में बेरोजगारों को यह सार्टिफिकेट चाहिए, लेकिन सार्टिफिकेट बनाने का समय सीमित है । लिहाजा रात आठ बजे से ही अस्पताल के बाहर लाइन लगनी शुरू हो जाती हैं, ताकि सुबह उनका नंबर आ सके। महिला व पुरुषों की अलग अलग लाइनें लगती हैं जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग के नियम की खुलेआम धज्जियां उड़ रही हैं, मगर देखने वाला कोई नहीं है । यहां बेरोजगारों के लिए पेयजल तक का इंतजाम नहीं है ।
जिला प्रशासन ने ऐसी कोई व्यवस्था नहीं की है जिससे मजदूरों को आसानी से मेडिकल सार्टिफिकेट उपलब्ध हो सके । हमने लाइन में लगे मजदूरों से बात तो उन्होंने बताया कि वह 12 से 14 घंटे से लाइन में लगे हैं । मजदूरों की संख्या को देखते हुए न तो सार्टिफिकेट बनाने के लिए अतिरिक्त काउंटर खुलवाए गए हैं और न ही आन लाइन पंजीकरण की व्यवस्था की गई है । यदि इस भीड़ में कोई कोरोना संक्रमित व्यक्ति हुआ तो उससे कितने लोग संक्रमित हो जाएंगे इसका अंदाजा भी लगाना मुश्किल है, लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नहीं है ।


Uttarakhand Government
Uttarakhand Government

Related News

विजय भूषण बने ओमैक्स सोसायटी के निर्विरोध अध्यक्ष बने

रुद्रपुर। ओमेक्स रिवेरा वेलफेयर एसोसिएशन के चुनाव में शहर के प्रतिष्ठित व्यापारी विजय भूषण गर्ग निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए । त हासिल की है। विजय...

सीएम ने बाजपुर के हजारों किसानों के चेहरों पर इस तरह ला दी मुस्कान

रुद्रपुर । ऊधमसिंह नगर जिले की तहसील बाजपुर क्षेत्र में हजारों एकड़ भूमि पर खरीद फरोख्त पर रोक लगाने के बाद आंदोलित किसानों के...

देहरादून- नहीं थम रही उत्तराखंड में कोरोना की रफ्तार, पढ़े आज का ताज़ा अपडेट

उत्तराखंड में कोरोना का कहर लगातार बड़ता जा रहा है। प्रदेश में कोरोना का आकड़ा 38007 पर पहुंच गया है। शुक्रवार को जारी स्वास्थ्य...

पिथौरागढ़- आपदा प्रभावितों को मिलेगा मुआवजा, पीड़ितों के चेहरे पर ऐसे लौटी मुस्कान

राज्य सरकार के साढ़े तीन वर्ष का कार्यकाल पूरा होने के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पिथौरागढ़ में आपदा प्रभावितों को मकान की...

देहरादून- साढ़े तीन साल में त्रिवेन्द्र सरकार ने ऐसे किये 85 प्रतिशत वादे पूरेए पढिय़े कैसे किया स्वरोजगार पर फोकस

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राज्य सरकार के साढ़े तीन वर्ष पूर्ण हो जाने बाद अपने 85 प्रतिशत वायदे पूरे किये है। मुख्मंत्री ने...

उत्तराखंड- छात्रों और शिक्षकों के लिए काम की खबर, शिक्षा मंत्री ने किया ये ऐलान

कोविड-19 को देखते हुए केन्द्र सरकार के निर्देशों के बाद अब उत्तराखंड में एनसीईआरटी पाठ्यक्रम को प्रदेश सरकार 30 प्रतिशत कम करने जा रही...
Uttarakhand Government