inspace haldwani
Home उत्तराखंड रुद्रपुर: बहुचर्चित एनएच घोटाले में मुख्य आरोपी डीपी सिंह से हारा आयकर...

रुद्रपुर: बहुचर्चित एनएच घोटाले में मुख्य आरोपी डीपी सिंह से हारा आयकर विभाग,रिपोर्ट देखकर ऐसे उड़े सबके होश

हल्द्वानी -अब इस एप से होगा खनिज निकासी वाहनों का फिटनेस, उत्तराखंड बना दूसरा राज्य

हल्द्वानी - आज जिलाधिकारी सविन बंसल के निर्देशों पर खनिज निकासी का काम करने वाले वाहनों की फिटनेस एम -फिटनेस एप के माध्यम से...

नानकमत्ता: मुलाजिम ड्यूटी से ज्याला को हुआ था कोरोना संक्रमण, परिवार ने दूर से किए अंतिम दर्शन, जानिए काम के प्रति कितने संवेदनशील थे...

नानकमत्ता। थाने की प्रतापपुर चौकी में तैनात कांस्टेबल सुरेंद्र सिंह ज्याला के शव को परिवार वाले निकट से देख तक नहीं पाए। उनके निधन...

उत्तराखंड- प्राथमिक विद्यालयों में रिक्त पदों पर अद्यापकों की होगी भर्ती, शिक्षा सचिव ने जारी किये आदेश

प्रदेश भर के कई विद्यालयों में इस समय शिक्षकों की समुचित व्यवस्था नही है, ऐसे में अब स्कूलों में शिक्षकों की व्यवस्था करने की...

हल्द्वानी-शुरू हुआ ऑनलाइन नक्शे बनने का काम, ऐसे करें जिला विकास प्राधिकरण में आवेदन

हल्द्वानी-लंबे से समय मकानों के नक्शों को भटक रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है। करीब एक महीने की मशक्क्त के बाद जिला विकास...

देहरादून- ऑनलाइन हुआ उत्तराखंड वन विभाग मुख्यालय, सीएम त्रिवेन्द्र ने की इन कार्यों की घोषणाएं

उत्तराखंड में 37 ऑफिसो को ई-ऑफिस प्रणाली से जोड़े जाने के बाद अब उत्तराखंड वन विभाग मुख्यालय भी ऑनलाइन होगा। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत...

रुद्रपुर । बहुचर्चित एनएच 74 घोटाले में मुख्य आरोपी बनाये गए पीसीएस अफसर डीपी सिंह के खिलाफ शुरू हुई आयकर विभाग की जांच पूरी हो गई है, लेकिन हैरत की बात है कि आयकर विभाग को उनके पास आय से अधिक संपत्ति नहीं मिली और न ही कैश मिला । अब आयकर विभाग उनके वेतन से कटे आयकर के अंशदान को भी लौटा रहा है । हालांकि आयकर विभाग ने डीपी सिंह की जांच के लिए स्पेशल आडिट भी कराया था ।
गौरतलब है कि वर्ष 2017 में तत्कालीन मंडल आयुक्त डी सेंथिल पांडियन ने एन एच घोटाले का खुलासा किया था । शासन ने इसे गंभीरता से लिया था और जांच के लिए एसआईटी का गठन किया था । उसी दौरान डीपी सिंह के यहाँ आयकर विभाग का छापा पड़ा था । उस वक्त यह चर्चा रही थी कि डीपी सिंह के पास करोड़ों की नकदी व करोड़ों की अचल संपत्ति मिली है, लेकिन आयकर विभाग की जांच में न तो करोड़ों का कैश मिला और न ही आय से अधिक संपत्ति मिली । आयकर विभाग को यूपी के सीतापुर जिले में अचल संपत्ति जरूर मिली, जो उनकी पैतृक संपत्ति है । छापे के दौरान जो सवा तीन लाख रुपये कैश मिला था उसके दस्तावेज सही पाए गए । दरअसल डीपी सिंह ने यूकेलिप्टिस की लकड़ी बेची थी, संडीला मंडी समिति ने इस बात की पुष्टि की ।
फजीहत से बचने के लिए आयकर विभाग ने जमीन के दस्तावेज उपलब्ध न कराने, मुहैया कराए गए दस्तावेजों पर मुहर व हस्ताक्षर न होने की बात कही और कृषि आय पर मामूली टैक्स लगाया, जिस पर डीपी सिंह ने सीआईटी में अपील की है । अब आयकर विभाग ने वेतन से कटे आयकर के अंशदान को भी लौटा दिया है ।
अब यह साफ हो गया है कि मुख्य आरोपी के पास आय से अधिक संपत्ति नहीं है । यहां बता दें कि एन एच घोटाले में पीसीएस अफसर डीपी सिंह समेत पांच अफसरों को जेल भेजा गया था । साथ ही आईएएस पंकज कुमार पाण्डेय व चंद्रेश यादव निलंबित किए गए थे । हालांकि एसआईटी ने आईएएस पंकज कुमार पाण्डेय पर मुकदमा चलाने की अनुमति मांगी थी, लेकिन अनुमति नहीं मिली । वहीं आईएएस चंद्रेश यादव पर मुआवजा बढ़ाने का आरोप था, लेकिन शासन ने उनके खिलाफ चल रही विभागीय कार्रवाई को समाप्त कर दिया है ।
हालांकि डीपी सिंह समेत पांच अफसरों को बहाल करके अलग अलग स्थानों पर पोस्टिंग दी जा चुकी है । एक खास बात यह है कि एसएलएओ के पद पर रहते डीपी सिंह ने जो मुआवजा निर्धारित किया था उसे आर्बिट्रेटर ने सही ठहराया है ।
हालांकि एन एच घोटाले में मुकदमा अभी विचाराधीन है, लेकिन आयकर विभाग स्पेशल आडिट के बाद भी डीपी सिंह के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं जुटा सका। अब सवाल यह उठता है कि यदि घोटाला हुआ था तो रिश्वत की कमाई आखिर कहां गई?

Related News

हल्द्वानी -अब इस एप से होगा खनिज निकासी वाहनों का फिटनेस, उत्तराखंड बना दूसरा राज्य

हल्द्वानी - आज जिलाधिकारी सविन बंसल के निर्देशों पर खनिज निकासी का काम करने वाले वाहनों की फिटनेस एम -फिटनेस एप के माध्यम से...

नानकमत्ता: मुलाजिम ड्यूटी से ज्याला को हुआ था कोरोना संक्रमण, परिवार ने दूर से किए अंतिम दर्शन, जानिए काम के प्रति कितने संवेदनशील थे...

नानकमत्ता। थाने की प्रतापपुर चौकी में तैनात कांस्टेबल सुरेंद्र सिंह ज्याला के शव को परिवार वाले निकट से देख तक नहीं पाए। उनके निधन...

उत्तराखंड- प्राथमिक विद्यालयों में रिक्त पदों पर अद्यापकों की होगी भर्ती, शिक्षा सचिव ने जारी किये आदेश

प्रदेश भर के कई विद्यालयों में इस समय शिक्षकों की समुचित व्यवस्था नही है, ऐसे में अब स्कूलों में शिक्षकों की व्यवस्था करने की...

हल्द्वानी-शुरू हुआ ऑनलाइन नक्शे बनने का काम, ऐसे करें जिला विकास प्राधिकरण में आवेदन

हल्द्वानी-लंबे से समय मकानों के नक्शों को भटक रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है। करीब एक महीने की मशक्क्त के बाद जिला विकास...

देहरादून- ऑनलाइन हुआ उत्तराखंड वन विभाग मुख्यालय, सीएम त्रिवेन्द्र ने की इन कार्यों की घोषणाएं

उत्तराखंड में 37 ऑफिसो को ई-ऑफिस प्रणाली से जोड़े जाने के बाद अब उत्तराखंड वन विभाग मुख्यालय भी ऑनलाइन होगा। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत...

हल्द्वानी-काश्तकारों को मिले सभी सुविधायें, डीएम ने क्रय ऐजेन्सियों को जारी किये ये निर्देश

हल्द्वानी-काश्तकारों को धान का सरकार द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य का भुगतान हो और क्रय केन्द्रों पर मानकों के अनुसार धान की खरीद हो तथा...