राजनीति और राजनेताओं के लिए शंकराचार्य जी ने कही यह बात

संत राजनीति को दिशा दिखाएं, राजनेता बनना ठीक नहीं
—-
न्‍यूज टुडे नेटवर्क। अजय मिश्रा
पुरी पीठाधीश्‍वर शंकराचार्य स्‍वामी निश्‍चलानंद सरस्‍वती जी महाराज ने कहा कि संत राजनीति को दिशा देने का काम करें। उनका राजनीति में आना और राजनेता बनना ठीक नहीं है। उन्‍होंने कहा कि राजनीतिक दल और नेताओं ने राजनीति को लालच का घर बना लिया है। इसे देश के लिए ठीक नहीं कहा जा सकता।

shankracharya nishchalanand saraswati
आनंद आश्रम में प्रवचन करते पुरी पीठाधीश्वर शंकराचार्य स्वामी निश्च्लानंद सरस्वती जी महाराज। न्‍यूज टुडे नेेेेेेेटवर्क।

पुरी पीठाधीश्‍वर शनिवार की शाम बरेली पहुंचे थे। जाने माने कारोबारी अशोक गोयल के रामपुर बाग स्‍थित निवास पर शहर के तमाम लोगों ने उनका स्‍वागत व पूजन किया था। रविवार की सुबह वह आनंद आश्रम में शहर के लोगों से मुखातिब हुए। उन्‍होंने शहर के तमाम लोगों ने देश, समाज, राजनीति और वैदिक धर्म पर चर्चा की।

उन्‍होंने कहा कि वैदिक वर्णव्‍यवस्‍था समाज के विकास का आधार थी। मगर, बाद में इसका स्‍वरूप बदल गया। उन्‍होंने कहा कि देश को विकास के रास्‍ते पर ले जाना है तो जातिवाद की समस्‍या को समाप्‍त करना होगा। समाज का हर शख्‍स एक समान है। यही सोच देश को आगे ले जाएगी।  आनंद आश्रम के बाद हरि मंदिर में उनका पादुका पूजन हुआ।

रात आठ बजे वह शहर के जाने माने कारोबारी फनसिटी के एमडी अनिल अग्रवाल के घर पर भी जाएंगे। यहां शहर के तमाम लोग उनसे आशीर्वाद लेंगे। आनंद आश्रम में हुए कार्यक्रम में केन्‍द्रीय मंत्री संतोष गंगवार, अशोक गोयल, संजीव अग्रवाल, महेन्‍द्र अग्रवाल, राजेश अग्रवाल, प्रेम प्रकाश अग्रवाल, गोयल,  सक्‍सेना समेत सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें