यूपी : लखनऊ में एसजीपीजीआईएमएस में जल्द शुरु होंगे नए विभाग

लखनऊ, 22 सितम्बर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के लखनऊ स्थित संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एसजीपीजीआईएमएस) नई फैकल्टी शुरू कर रहा है। जिसमें सिर और गले की सर्जरी, बाल चिकित्सा एंडोक्रिनोलॉजी समेत संक्रामक रोग और वैक्सीन अनुसंधान विभाग शामिल होंगे।
 | 
यूपी : लखनऊ में एसजीपीजीआईएमएस में जल्द शुरु होंगे नए विभाग लखनऊ, 22 सितम्बर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के लखनऊ स्थित संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एसजीपीजीआईएमएस) नई फैकल्टी शुरू कर रहा है। जिसमें सिर और गले की सर्जरी, बाल चिकित्सा एंडोक्रिनोलॉजी समेत संक्रामक रोग और वैक्सीन अनुसंधान विभाग शामिल होंगे।

संस्थान के शासी निकाय ने नए विभागों के निर्माण को मंजूरी दे दी है।

एसजीपीजीआईएमएस में सिर और गले के कैंसर मरीजों का इलाज किया जाएगा, जो राज्य में पाए गए कुल कैंसर के मामलों का 21 प्रतिशत है।

निदेशक एसजीपीजीआईएमएस प्रोफेसर राधा कृष्ण धीमान ने कहा कि इस विभाग के बनने के बाद सिर और गले के कैंसर मरीजों का बेहतर और संगठित तरीके से इलाज किया जाएगा।

chaitanya

ये नए विभाग गले के कैंसर, बाल चिकित्सा जटिलताओं और हाल ही में कोविड-19 महामारी की घटना को देखते हुए बहुत महत्वपूर्ण हैं।

इन नए विभागों में विशेष उपचार की उपलब्धता से उत्तर प्रदेश को लॉन्ग टर्म फायदा होगा।

प्रो धीमान ने कहा, बाल चिकित्सा एंडोक्रिनोलॉजी विभाग में मधुमेह, मोटापा, थायराइड और अन्य विकारों के मामलों का इलाज पूरे ध्यानपूर्वक के साथ किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के बाद संक्रामक रोग और वैक्सीन विकास विभाग की बहुत जरूरत थी। एसजीपीजीआईएमएस का यह नया विभाग विशेष रूप से स्वाइन फ्लू, जापानी इंसेफेलाइटिस, वायरल हेपेटाइटिस और कोरोना जैसे संक्रामक रोगों से निपटेगा।

एसजीपीजीआईएमएस ने नर्सिग कॉलेज में बी.एससी और एम.एससी सीटों में भी वृद्धि की है और विभिन्न विभागों में नए पाठ्यक्रमों को भी मंजूरी दी है।

निदेशक ने कहा कि एसजीपीजीआईएमएस सर्वोत्तम संभव चिकित्सा देखभाल प्रदान करने के लिए प्रयास कर रहा है।

--आईएएनएस

पीके/एसकेके