मुरैना के एसपी के पिता तीर्थ दर्शन योजना का लाभ लेने पर सस्पेंड

सतना/मुरैना, 24 जनवरी (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश के सतना जिले के सहायक शिक्षक लालजी बागरी को इसलिए निलंबित कर दिया गया है, क्योंकि उन्होंने शासकीय सेवक होने के बावजूद मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना का लाभ लेने का प्रयास किया। बागरी मुरैना के पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी के पिता है।
 | 
सतना/मुरैना, 24 जनवरी (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश के सतना जिले के सहायक शिक्षक लालजी बागरी को इसलिए निलंबित कर दिया गया है, क्योंकि उन्होंने शासकीय सेवक होने के बावजूद मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना का लाभ लेने का प्रयास किया। बागरी मुरैना के पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी के पिता है।

मिली जानकारी के अनुसार 24 जनवरी से 29 जनवरी तक मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अंतर्गत सतना से द्वारिका जाने वाली ट्रेन में दर्शनार्थी यात्री के तौर पर लाल जी बागड़ी ने अपनी पत्नी के साथ पंजीयन कराया, जबकि वह शासकीय सेवक हैं और आयकर दाता कर्मचारी हैं जबकि मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अंतर्गत आयकर दाता को योजना के लाभ की पात्रता नहीं है।

इस मामले के सामने आने पर सतना कलेक्टर ने लालजी बागरी को निलंबित कर दिया है और जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि उन्होंने उक्त यात्रा में जाने हेतु सक्षम स्वीकृति भी प्राप्त नहीं की और आयकर दाता होने को छुपाकर योजना का लाभ गलत तरीके से प्राप्त करने का कूट रचित प्रयास किया है। उनका यह कृत्य मध्यप्रदेश सिविल सेवा आचरण नियम के विपरीत है और इससे जिला प्रशासन के साथ विभाग की छवि धूमिल हुई है।

chaitanya

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक लालजी बागरी मुरैना में पदस्थ पुलिस अधीक्षक आषुतोश बागरी के पिता हैं।

--आईएएनएस

एसएनपी/एएनएम