inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश महामारी संशोधन विधेयक 2020 को मिली मंजूरी, स्वास्थ्य कर्मियों को होगा लाभ

महामारी संशोधन विधेयक 2020 को मिली मंजूरी, स्वास्थ्य कर्मियों को होगा लाभ

Hathras Case: एक बार फिर क्राइम सीन पर पहुंची सीबीआई, चश्मदीद विक्रम भी है मौजूद

हाथरस केस में सीबीआई (CBI) की जांच लगातार जारी है।आज एक बार फिर सीबीआई क्राइम सीन (Crime Scene) पर पहुंची। क्राइम सीन पर सीबीआई...

बरेली में वाइरल वीडियो के बाद लव जिहाद का आरोप लगाने पर हिन्दू का प्रदर्शन , पुलिस ने किया लाठीचार्ज

बरेली में भाजपा कार्यकर्ताओं की लाठी से पिटाई करने की घटना सामने आई है। बता दें कि थाना किला क्षेत्र में एक मुस्लिम युवक...

वैष्णो देवी यात्रा के लिए साइकिल पर 2200 KM का सफर तय करेंगी 68 वर्षीय महिला

दुनिया भर में वर्ल्ड रिकॉर्ड (World Record) बनाते हुए करते हो आपने देखा होगा। लेकिन इस बार महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले की एक 68...

हाथरस केस में सामने आया पुलिस की लापरवाही का बड़ा मामला, चार आरोपियों में से एक आरोपी निकला नाबालिक

हाथरस केस (Hathras Case) में पुलिस की लापरवाही का एक बड़ा मामला सामने आया है। इस केस में जेल भेजे गए चार आरोपियों में...

इस दिन से खुलेंगे नवोदय व केंद्र विद्यालय, इन नियमों का करना होगा पालन

देश में कोरोना वायरस (corona virus) की वजह से पिछले 7 महीने से स्कूल बंद चल रहे हैं। यूपी समेत कुछ राज्यों में कक्षा...

संसद में महामारी संशोधन विधेयक 2020 (Pandemic Amendment Bill) को मंजूरी मिल गई है। लोकसभा में देर रात इस विधेयक को बहुमत से पारित किया गया। जबकि राज्यसभा से 19 सितंबर को ही पारित कर चुकी है। इस विधेयक के अंतर्गत 1897 के अधिनियम में संशोधन कर स्वास्थ्यकर्मियों (health workers) को सुरक्षा देने और महामारियों का प्रसार रोकने के लिए केंद्र सरकार की शक्तियों का विस्तार करने के प्रावधान है।
corona virus positive patient uttarakhand
पारित विधेयक में स्वास्थ्यकर्मियों को क्षति पहुंचाने या उनके जीवन को खतरे में डालने जैसे कार्यों को संज्ञेय (cognizable) और गैर जमानती अपराध (non bailable crime) माना गया है। विधेयक में ऐसा करने वाले किसी भी व्यक्ति को तीन महीने से पांच साल तक की सजा और 50 हजार से दो लाख रुपए तक का जुर्माना देने का प्रावधान किया गया है। इसके साथ ही स्वास्थ्यकर्मियों पर हमला करने या उन्हें क्षति पहुंचाने वाले व्यक्ति को प्रभावित स्वास्थ्यकर्मी को मुआवजा भी देना होगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि देश में स्वास्थ्यकर्मियों पर हो रहे हमलों को देखते हुए कोविड महामारी (covid pandemic) की मौजूदा स्थिति में ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए कड़े कानून की जरूरत थी। उन्होंने कहा कि सरकार राष्ट्रीय लोक स्वास्थ्य अधिनियम तैयार कर रही है और इस बारे में 14 राज्यों से सुझाव प्राप्त हुए हैं।
                          http://www.narayan98.co.in/
narayan college                        https://youtu.be/yEWmOfXJRX8

Related News

Hathras Case: एक बार फिर क्राइम सीन पर पहुंची सीबीआई, चश्मदीद विक्रम भी है मौजूद

हाथरस केस में सीबीआई (CBI) की जांच लगातार जारी है।आज एक बार फिर सीबीआई क्राइम सीन (Crime Scene) पर पहुंची। क्राइम सीन पर सीबीआई...

बरेली में वाइरल वीडियो के बाद लव जिहाद का आरोप लगाने पर हिन्दू का प्रदर्शन , पुलिस ने किया लाठीचार्ज

बरेली में भाजपा कार्यकर्ताओं की लाठी से पिटाई करने की घटना सामने आई है। बता दें कि थाना किला क्षेत्र में एक मुस्लिम युवक...

वैष्णो देवी यात्रा के लिए साइकिल पर 2200 KM का सफर तय करेंगी 68 वर्षीय महिला

दुनिया भर में वर्ल्ड रिकॉर्ड (World Record) बनाते हुए करते हो आपने देखा होगा। लेकिन इस बार महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले की एक 68...

हाथरस केस में सामने आया पुलिस की लापरवाही का बड़ा मामला, चार आरोपियों में से एक आरोपी निकला नाबालिक

हाथरस केस (Hathras Case) में पुलिस की लापरवाही का एक बड़ा मामला सामने आया है। इस केस में जेल भेजे गए चार आरोपियों में...

इस दिन से खुलेंगे नवोदय व केंद्र विद्यालय, इन नियमों का करना होगा पालन

देश में कोरोना वायरस (corona virus) की वजह से पिछले 7 महीने से स्कूल बंद चल रहे हैं। यूपी समेत कुछ राज्यों में कक्षा...

Covid-19: कोरोना का चौंकाने वाला खुलासा, 11 साल की बच्ची के साथ हुआ कुछ ऐसा

कोरोना वायरस (corona virus) में दुनिया भर में तबाही मचा रखी है। समय-समय पर हो रही रिसर्च में हैरतअंगेज करने वाली बातें भी सामने...