मप्र में कई उद्योग निवेश की तैयारी में

भोपाल, 22 नवंबर (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश की व्यापारिक नगरी इंदौर में अगले साल होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर समिट के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिशें जारी है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की औद्योगिक क्षेत्र के प्रतिनिधियों से मुलाकातों का दौर जारी है। चौहान का कहना है कि मध्यप्रदेश में निवेशकों को सुविधाएं देने की नीति देश में सबसे बेहतर है। वहीं उद्योगपतियों ने आगामी योजनाओं को मुख्यमंत्री से साझा किया।
 | 
मप्र में कई उद्योग निवेश की तैयारी में भोपाल, 22 नवंबर (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश की व्यापारिक नगरी इंदौर में अगले साल होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर समिट के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिशें जारी है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की औद्योगिक क्षेत्र के प्रतिनिधियों से मुलाकातों का दौर जारी है। चौहान का कहना है कि मध्यप्रदेश में निवेशकों को सुविधाएं देने की नीति देश में सबसे बेहतर है। वहीं उद्योगपतियों ने आगामी योजनाओं को मुख्यमंत्री से साझा किया।

मुख्यमंत्री चौहान ने उद्योगपतियों से चर्चा करते हुए कहा, प्रदेश में निवेशकों को पूरा सहयोग दिया जाएगा। निवेश बढ़ने से युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे। आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश और आत्म-निर्भर भारत का निर्माण हो सकेगा।

मुख्यमंत्री चौहान से चर्चा के दौरान मेसर्स एचईजी लिमिटेड मंडीदीप के प्रमोटर रिजु झुनझुनवाला ने कहा कि मध्यप्रदेश में औद्योगिक निवेश के क्षेत्र में काम करने का सबसे अच्छा माहौल है। उनकी कंपनी की इकाई ग्रेफाईट एनोड के विनिर्माण के लिए प्रदेश में 1800 करोड़ रूपए का निवेश करेगी। देवास जिले के ग्राम सिरसौदा में इस परियोजना के प्रथम चरण में 800 करोड़ तथा द्वितीय चरण में एक हजार करोड़ रूपए का निवेश किया जाएगा। जिसकी वार्षिक उत्पादन क्षमता 20 हजार मीट्रिक टन होगी। एक जनवरी 2025 तक प्रथम चरण का उत्पादन शुरू होगा और एक जनवरी 2028 तक परियोजना को पूरा कर लिया जाएगा। इसमें लगभग 400 लोगों को रोजगार मिलेगा।

chaitanya

मेसर्स एलम सोलर, नई दिल्ली के सीईओ मनोज अग्रवाल ने बताया कि कंपनी दो चरणों में 1500 मिलियन यूएस डालर का निवेश करेगी। लगभग 500 एकड़ में स्थापित प्लांट में 400 मेगावाट बिजली का उत्पादन होगा और 15 हजार से 20 हजार लोगों को रोजगार मिल सकेगा।

मेसर्स रमणीक पॉवर एण्ड एलॉयज प्रा. लि. बालाघाट के डायरेक्टर निश्चल त्रिवेदी ने मुख्यमंत्री को बताया कि कंपनी द्वारा बालाघाट के ग्राम सरंडी में 168 करोड़ रूपए का निवेश प्रस्तावित है। इससे सैकड़ों लोगों को रोजगार मिलेगा। इसमें सिलिको एलॉयज का उत्पादन होगा।

मेसर्स बुरहानपुर टेक्सटाईल्स लिमिटेड के मेनटोर ओमप्रकाश मित्तल ने बताया कि उनकी कंपनी द्वारा ग्राम फतेपुर, जिला बुरहानपुर में यार्न, ट्वीस्टेड यार्न, ग्रे-फेब्रिक, आरएफडी फेब्रिक, साड़ी धोती व जॉब वर्क, पैलेट्स उत्पादन पर 297 करोड़ 86 लाख रुपए के निवेश का प्रस्ताव है। इससे 1100 व्यक्तियों को रोजगार उपलब्ध हो सकेगा।

--आईएएनएस

एसएनपी/एसकेपी