मप्र के गांवों में पुलिस को रिश्वत देने के लिए लोग बेटियों को बेचते हैं : प्रज्ञा ठाकुर

भोपाल, 20 सितंबर (आईएएनएस)। भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा है कि जिन दो गांवों को उन्होंने गोद लिया है, वहां के लोगों को पुलिस को रिश्वत देने के लिए अपनी बेटियों को बेचने के लिए मजबूर किया गया।
 | 
मप्र के गांवों में पुलिस को रिश्वत देने के लिए लोग बेटियों को बेचते हैं : प्रज्ञा ठाकुर भोपाल, 20 सितंबर (आईएएनएस)। भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा है कि जिन दो गांवों को उन्होंने गोद लिया है, वहां के लोगों को पुलिस को रिश्वत देने के लिए अपनी बेटियों को बेचने के लिए मजबूर किया गया।

उनके भाषण का एक वीडियो मंगलवार को वायरल हो गया और कांग्रेस ने भाजपा के नेतृत्व वाली शिवराज सिंह चौहान सरकार पर सवाल उठाया।

प्रज्ञा ठाकुर ने सोमवार को एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि जिन गांवों को उन्होंने गोद लिया है, वहां के लोगों के पास आजीविका कमाने के लिए कोई साधन नहीं है।

chaitanya

सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में प्रज्ञा को यह कहते हुए सुना गया, वे (ग्रामीण) देसी शराब बनाते हैं और अपनी आजीविका कमाने के लिए इसे बेचते हैं। पुलिस उन्हें गिरफ्तार करती है और ये गरीब लोग पुलिस को रिश्वत देने के लिए अपनी बेटियों को बेच देते हैं।

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ योजना पर सवाल उठाते हुए भाजपा पर निशाना साधा। विपक्षी पार्टी ने कहा कि भाजपा सरकार को उसके ही सांसद ने बेनकाब कर दिया।

कांग्रेस की वरिष्ठ प्रवक्ता संगीता शर्मा ने कहा, उन्होंने (प्रज्ञा ठाकुर) ने अपनी ही पार्टी की सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। लेकिन, सवाल यह है कि उन्होंने इस मुद्दे को संसद में क्यों नहीं उठाया? उन्होंने भाजपा सरकार का पदार्फाश कर दिया है और साबित कर दिया है कि बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ योजना भाजपा के लिए सिर्फ एक नारा है।

भोपाल से भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह को हराया था। हालांकि पिछले कुछ महीनों से सांसद प्रज्ञा को पार्टी दरकिनार किए हुई है।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम