मतदाता सूची से नाम काटने पर ओएसडी और दो तहसीलदार के खिलाफ केस दर्ज

ग्रेटर नोएडा, 26 जनवरी (आईएएनएस)। महिला मतदाता का निर्वाचन सूची से नाम काटने के आरोप में सदर तहसील के तत्कालीन उप जिलाधिकारी और वर्तमान में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के ओएसडी, दो तहसीलदार सहित आठ लोगों के खिलाफ दनकौर कोतवाली में मुकदमा दर्ज हुआ है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।
 | 
ग्रेटर नोएडा, 26 जनवरी (आईएएनएस)। महिला मतदाता का निर्वाचन सूची से नाम काटने के आरोप में सदर तहसील के तत्कालीन उप जिलाधिकारी और वर्तमान में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के ओएसडी, दो तहसीलदार सहित आठ लोगों के खिलाफ दनकौर कोतवाली में मुकदमा दर्ज हुआ है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

दनकौर कोतवाली क्षेत्र के रोशनपुर गांव में रहने वाली दलित महिला हेमलता ने कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज कराया है। हेमलता पत्नी महेंद्र जाटव निवासी रोशनपुर का आरोप है कि निर्वाचन सूची में उनका नाम दर्ज था लेकिन विधानसभा के चुनाव के पूर्व जो निर्वाचन सूची जारी की गई उसमें उनका नाम कटवा दिया गया। महिला ने निर्वाचन सूची से नाम कटाने का आरोप तत्कालीन सदर उप जिला अधिकारी रजनीकांत मिश्रा, तहसीलदार विनय भदौरिया, तहसीलदार अखिलेश मिश्रा सहित पांच कर्मचारियों का लगाया था।

महिला ने इस संबंध में पुलिस को शिकायत की थी। लेकिन पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की। इसके बाद महिला ने गौतमबुध नगर के एससी एसटी कोर्ट में मामले की शिकायत की थी। अनुसूचित जाति जनजाति कोर्ट ने इस मामले में दिसंबर में दनकौर पुलिस को तत्कालीन सदर तहसील के एसडीएम रजनीकांत, तहसीलदार विनय भदौरिया और अखिलेश सिंह समेत पांच अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए थे। तब से लेकर पुलिस मामला दर्ज करने में लापरवाही कर रही थी। अब कोर्ट की फटकार के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की है।

chaitanya

--आईएएनएस

पीकेटी/एसकेपी