मंगलुरु ब्लास्ट : तमिलनाडु में पुलिस कर रही छापेमारी

चेन्नई, 23 नवंबर (आईएएनएस)। मंगलुरु ब्लास्ट के आरोपियों के तमिलनाडु से संबंध होने की खबरों के बाद तमिलनाडु पुलिस कोयंबटूर सहित राज्य के विभिन्न स्थानों पर छापेमारी कर रही है।
 | 
मंगलुरु ब्लास्ट : तमिलनाडु में पुलिस कर रही छापेमारी चेन्नई, 23 नवंबर (आईएएनएस)। मंगलुरु ब्लास्ट के आरोपियों के तमिलनाडु से संबंध होने की खबरों के बाद तमिलनाडु पुलिस कोयंबटूर सहित राज्य के विभिन्न स्थानों पर छापेमारी कर रही है।

कोयम्बटूर ब्लास्ट की आरोपी जमीशा मुबीन और मंगलुरु ब्लास्ट के आरोपी मोहम्मद शरीक सितंबर में सीरिंगनल्लूर में मिले थे।

केंद्रीय एजेंसियों के सूत्रों ने आईएएनएस को यह भी बताया कि जमीशा मुबीन और मोहम्मद शरीक दोनों को दुबई स्थित एक ऑपरेटिव अराफात अली से फंड मिला था, जो हमलों की कोशिश कर रहे दोनों ऑपरेटिव को नियंत्रित कर रहा था।

chaitanya

अराफत अली 2020 नवंबर में मंगलुरु में दर्ज एक मामले में आरोपी था और तब से फरार है।

इन दोनों हत्यारों के अंतरराष्ट्रीय आतंकी संगठन के पेरोल पर होने के संकेतों को भी केंद्रीय एजेंसियों ने खारिज नहीं किया है।

राज्य पुलिस के सूत्रों ने आईएएनएस को बताया कि केरल से प्रतिबंधित पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के कुछ तत्व तमिलनाडु में गुप्त रूप से रह रहे हैं। यह ध्यान दिया जा सकता है कि मंगलुरु विस्फोट के आरोपी मोहम्मद शरीक ने केरल का दौरा किया था और अलुवा में पांच दिनों के लिए रुके थे, जो कभी पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का अड्डा हुआ करता था।

तमिलनाडु पुलिस ने दुकानों, लॉज और मकान मालिकों को अपने भवनों में सीसीटीवी कैमरे लगाने का निर्देश दिया है ताकि यह पता लगाया जा सके कि कोई अज्ञात व्यक्ति उनके संबंधित आवासीय या व्यावसायिक क्षेत्रों में बार-बार आ रहा है या नहीं।

--आईएएनएस

एचएमए/एएनएम