भीमताल – पर्यटन बढ़ाने के लिए खूबसूरत हरीशताल के लिए सरकार ने लिया फैसला, प्रधानमंत्री की इस योजना से होगा लाभ

271

हैडाखान/भीमताल/ 30 जनवरी 2019 (सूचना) – वैदिक मंत्रो के बीच सांसद एवं पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिह कोश्यारी ने लगभग 22 करोड 68 लाख की लागत से बनने वाले स्यूड़ा-कौन्ता-ककोड़-हरीशताल मोटर मार्ग का शिलान्यास किया। इस मौके पर विधायक रामसिह कैडा तथा ब्लाक प्रमुख आनन्द आर्य भी मौजूद थे।आयोजित समारोह मे उपस्थित जनसमुदाय को सम्बोधित करते हुये सांसद श्री कोश्यारी ने कहा कि सडक विकास की आत्मा है। दूरदराज के लोगों तक विकास की किरणें पहुंचे इसके लिए भारत सरकार ने संकल्प लिया है कि देश का हर गांव प्रधानमंत्री सडक योजना के अन्तर्गत पहुच मार्गो तथा सडकों को जोडा जाए। उन्होने कहा कि स्यूडा-हरीशताल मोटर मार्ग लोंगों की दशकोें पुरानी मांग है। इस सडक के निर्माण से कौन्ता,पटरानी, ककोड, आम तथा हरीशताल ग्रामों की हजारों की आबादी को लाभ मिलेगा। इससे पर्यटन बढेगा और ग्रामीणों की आमदनी का जरिये बन जायेगा। इसके साथ ही इस क्षेत्र के काश्तकारों को अपनी उपज को बाजार तक लाने मे सुविधा होगी। उन्होने कहा कि सडक, बिजली, पानी हमारी सरकार की प्राथमिकता मे शामिल है हमारे पुरजोर प्रयास है कि हर आदमी तक यह तीनों चीजें पहुचे।श्री कोश्यारी ने कहा कि गरीब महिलाओं को धुवें से मुक्ति दिलाने तथा उनके स्वास्थ्य को ध्यान मे रखते हुये उज्जवला गैस योजना प्रारम्भ की है जिसका सीधा लाभ करोडों गरीब महिलाओं को मिला है। उन्होनेे कहा कि बिजली से वंचित परिवारो को सौभाग्य योजना के अन्तर्गत निशुल्क विद्युत कनैक्शन दिये जा रहे है। श्री कोश्यारी ने कहा प्रदेश की अनुठी पहल से हर नागरिक को 5 लाख का स्वास्थ बीमा भी दिया जा रहा है। इसके अन्तर्गत तेजी से गोल्डन कार्ड भी बनाये जा रहे है। उन्होने लोगों से अपील की कि वह सरकार की योजनाओं का लाभ उठायें। अपने सम्बोधन में विधायक श्री रामसिह कैडा ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रो ंमे सडक महत्वपूर्ण है। उन्होने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों की सडकों से जोडने के लिए विधायक निधि से काफी धनराशि निर्गत की है। उन्होने कहा कि वह स्वयं अपनी विधानसभा मेें सडक, बिजली,पानी तथा स्वास्थ को प्राथमिकता देते है। उन्होने इस मोटरमार्ग के लिए सांसद भगत सिह कोश्यारी का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में अध्यक्ष जिला पंचायत चम्पावत खुशाल सिह अधिकारी के अलावा मनोज साह, चतुर सिह बोरा, आलम सिह नदगली,योगेश रजवार, प्रेम सिह विष्ट, सुरेश मेवाडी, रघुवर सम्भल, ध्रुव रौतेला,भरत सिह, गंगासिह, भानसिह सम्भल, शंकर कोरंगा, उमेश पलडिया, सुरेश जोशी, हरेन्द्र सिह बोरा, सज्जन साह, मनोज जोशी, ललित चिलवाल,गोपाल सिह अधिकारी, दीवान राम, केडी रूवाली, खीम सिह, के अलावा अधीक्षण अभियन्ता पीएमजीएसवाई जेएस हृयांकी, अधिशासी अभियन्ता आरसी पंत के अलावा बडी संख्या मे क्षेत्रवासी मौजूद थे।