भाजपा का स्थापना दिवस: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कार्यकर्ताओं किए पांच विशेष आग्रह, आप भी जानिए क्या कहा

अनुज गंगवार, न्‍यूज टुडे नेटवर्क
भाजपा के 40वें स्‍थापना दिवस पर प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा कि भारत दुनिया के उन देशों में से है जिसने कोरोना वायरस की गंभीरता को समझा और इसके खिलाफ एक व्यापक जंग की शुरुआत की। ये लंबी लड़ाई है, न थकना है, न हारना है। लंबी लड़ाई के बाद भी जीतना है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से पांच आग्रह किए जिसमें कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जुटे डॉक्टर, नर्स, सफाई कर्मचारी आदि को धन्यवाद देना शामिल है। प्रधानमंत्री ने कार्यकर्ताओं से पीएम-केयर्स फंड में सहयोग करने का अनुरोध किया।

प्रधानमंत्री ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि ये लंबी लड़ाई है, न थकना है, न हारना है। लंबी लड़ाई के बाद भी जीतना है। विजयी होकर निकलना है। आज देश का लक्ष्य एक है, मिशन एक है, और संकल्प एक है- कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में जीत। प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी से निपटने के लिए भारत के अबतक के प्रयासों ने दुनिया के सामने एक अलग ही उदाहरण प्रस्तुत किया है। भारत ने एक के बाद एक निर्णय किए। राज्य सरकारों के सहयोग से इन फैसलों को गति भी मिली। भारत ने जिस तेजी और समग्रता से काम किया है। उसकी प्रसंशा सिर्फ भारत ने ही नहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी की है।

प्रधानमंत्री ने कार्यकर्ताओं से पांच आग्रह किए। उन्‍होंने कहा,  मेरा पहला आग्रह है, गरीबों को राशन के लिए अविरत सेवा अभियान। दूसरा आग्रह है कि अपने साथ ही आप 5-7 अन्य लोगों के लिए फेस-कवर बनवाएं और उनका वितरण करें। तीसरा आग्रह है, धन्यवाद अभियान के लिए। पार्टी ने पांच अलग-अलग वर्ग बनाए हैं। पहला वर्ग- नर्सेस और डॉक्टर्स हों, दूसरा वर्ग- सफाई कर्मचारी, तीसरा वर्ग– पुलिसकर्मी, चौथा वर्ग- बैंक और पोस्ट ऑफिस के कर्मचारी, पांचवां वर्ग- आवश्यक सेवाओं में जुटे हुए सभी कर्मचारी। चौथा आग्रह है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसकी जानकारी दें और कम से कम 40 लोगों के मोबाइल में ये ऐप इंस्टॉल भी करवाएं। पांचवां आग्रह है कि इसमें प्रत्येक भाजपा कार्यकर्ता को खुद भी सहयोग करना है और 40 अन्य लोगों से भी पीएम-केयर्स फंड में सहयोग करने के लिए प्रेरित करना है।

यहाँ भी पढ़े

COVID-19: कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ने के कारण प्रदेश में हुई वेंटिलेटर की कमी

उत्तराखंड की बड़ी खबरें