भंडारा में 35 वर्षीय महिला से सामूहिक दुष्कर्म के बाद आक्रोश

मुंबई, 6 अगस्त (आईएएनएस)। महाराष्ट्र के भंडारा में एक महिला के साथ बेरहमी से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आने के बाद सत्तारूढ़ एकनाथ शिंदे-देवेंद्र फडणवीस शासन और विपक्षी महा विकास अघाड़ी के बीच राजनीतिक बहस छिड़ गयी है।
 | 
भंडारा में 35 वर्षीय महिला से सामूहिक दुष्कर्म के बाद आक्रोश मुंबई, 6 अगस्त (आईएएनएस)। महाराष्ट्र के भंडारा में एक महिला के साथ बेरहमी से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आने के बाद सत्तारूढ़ एकनाथ शिंदे-देवेंद्र फडणवीस शासन और विपक्षी महा विकास अघाड़ी के बीच राजनीतिक बहस छिड़ गयी है।

पुलिस के अनुसार, भंडारा जिले के कर्धा थाना क्षेत्र के कान्हड़मोह गांव के पास 30 जुलाई से 2 अगस्त के बीच पीड़िता का यौन उत्पीड़न किया गया।

आरोपियों ने महिला को राजमार्ग के पास फेंक दिया था, जहां कुछ ग्रामीणों ने नग्न और गंभीर रूप से घायल अवस्था में उस महिला को देखा, जिसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचित किया।

chaitanya

पुलिस ने उसे पहले भंडारा के एक स्थानीय अस्पताल में पहुंचाया, लेकिन उसके घाव गहरे होने के कारण उसे नागपुर के सरकारी अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया, जहां उसकी सर्जरी हुई है। हालांकि, उसकी हालत अभी भी नाजुक बनी हुई है।

महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष रूपाली ने इस घटना पर गंभीरता से संज्ञान लिया है, जबकि अन्य नेताओं ने इसकी तुलना दिल्ली की एक दशक पुरानी निर्भया घटना से की।

हंगामे के बाद, मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने मामले की जांच के लिए एक महिला आईपीएस अधिकारी के नेतृत्व में एक विशेष जांच दल (एसआईटी) को आदेश दिया है, जिसे उन्होंने एक गंभीर और भीषण घटना बताया।

प्रारंभिक पुलिस जांच के अनुसार, अपराध में कम से कम तीन व्यक्ति शामिल हैं, जिनमें से दो का पता लगा लिया गया है और उन्हें पूछताछ के लिए पकड़ा गया है, जिनका विवरण तत्काल उपलब्ध नहीं है।

भंडारा पुलिस भंडारा-गोंदिया राजमार्ग पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है और जिले और आसपास के इलाकों में इस अपराध में शामिल एक या एक से अधिक लोगों की तलाश कर रही है।

--आईएएनएस

एचके/एसकेपी