बूढ़ा पहाड़ से नक्सलियों द्वारा छुपाए गए 12 आईईडी बरामद

नई दिल्ली, 25 नवंबर (आईएएनएस)। झारखंड और छत्तीसगढ़ की सीमा में स्तिथ बूढ़ा पहाड़ पर चल रहे नक्सल विरोधी अभियान ऑपरेशन ऑक्टोपस के तहत गुरुवार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) को एक बार फिर बड़ी सफलता हाथ लगी है। सीआरपीएफ और पुलिस के संयुक्त अभियान में बूढ़ा पहाड़ के जंगलों में नक्सलियों द्वारा छुपाए गए करीब 12 आईईडी बरामद किए गए।
 | 
बूढ़ा पहाड़ से नक्सलियों द्वारा छुपाए गए 12 आईईडी बरामद नई दिल्ली, 25 नवंबर (आईएएनएस)। झारखंड और छत्तीसगढ़ की सीमा में स्तिथ बूढ़ा पहाड़ पर चल रहे नक्सल विरोधी अभियान ऑपरेशन ऑक्टोपस के तहत गुरुवार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) को एक बार फिर बड़ी सफलता हाथ लगी है। सीआरपीएफ और पुलिस के संयुक्त अभियान में बूढ़ा पहाड़ के जंगलों में नक्सलियों द्वारा छुपाए गए करीब 12 आईईडी बरामद किए गए।

सीआरपीएफ ने बताया कि नक्सलियों के कभी गढ़ रहे और अब सुरक्षा बलों के कब्जे में आए बूढ़ा पहाड़ के बलरामपुर के जंगल से एक गुप्त सूचना के आधार पर गुरुवार को सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन और छत्तीसगढ़ पुलिस के संयुक्त अभियान के दौरान जंगल में नक्सलियों द्वारा लगाए गए 12 आईईडी बम बरामद किए गए।

chaitanya

बरामद सभी आईईडी को मौके पर ही डिफ्यूज कर दिया गया। इसके बाद तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। पूरी कार्यवाही को सीआरपीएफ की 203 कोबरा बटालियन सहित छत्तीसगढ़ पुलिस के साथ मिलकर अंजाम दिया गया। गौरतलब है कि इसके पहले 19 नवंबर को भी बूढ़ा पहाड़ से करीब 120 आईईडी बरामद किए गए थे।

दरअसल पिछले महीने बूढ़ा पहाड़ को नक्सल मुक्त करने के लिए चलाए गए ऑक्टोपस नामक अभियान के दौरान जब से बूढ़ा पहाड़ पर सीआरपीएफ की बटालियन ने अस्थाई कैंप स्थापित किया है, तब से नक्सली अपने इस सुरक्षित ठिकाने को छोड़कर भाग खड़े हुए हैं। जवानों द्वारा काफी बड़े इलाके में फैले इस जंगल के क्षेत्रों में लगातार सर्च अभियान चलाकर विस्फोटक सामग्री बरामद की जा रही है।

--आईएएनएस

एसपीटी/सीबीटी