बिहार में पत्र भेजकर प्रोफेसर को दी गई सर तन से जुदा करने की धमकी, पुलिस जांच में जुटी

दरभंगा, 24 नवंबर (आईएएनएस)। बिहार में विपक्ष विधि व्यवस्था को लेकर लगातार सरकार पर निशाना साध रहा है। सत्ता पक्ष हालांकि सुशासन की बात कहती है। इस बीच, दरभंगा में ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और रसायन विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. प्रेम मोहन मिश्रा को डाक द्वारा पत्र भेजकर सर तन से जुदा करने की धमकी मिली है।
 | 
बिहार में पत्र भेजकर प्रोफेसर को दी गई सर तन से जुदा करने की धमकी, पुलिस जांच में जुटी दरभंगा, 24 नवंबर (आईएएनएस)। बिहार में विपक्ष विधि व्यवस्था को लेकर लगातार सरकार पर निशाना साध रहा है। सत्ता पक्ष हालांकि सुशासन की बात कहती है। इस बीच, दरभंगा में ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और रसायन विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. प्रेम मोहन मिश्रा को डाक द्वारा पत्र भेजकर सर तन से जुदा करने की धमकी मिली है।

पत्र मिलने के बाद विश्वविद्यालय थाना में इसकी एक प्राथमिकी दर्ज करा दी गई है, लेकिन प्रोफेसर का परिवार दहशत में है।

पुलिस के एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि बुधवार की शाम डाक द्वारा प्रोफेसर को एक पत्र भेजा गया है। धमकी भरे पत्र पर लिखनेवाला का नाम आलम परवेज लिखा हुआ है। पत्र में साफ-साफ लिखा गया है कि रसायन विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर प्रेम मोहन मिश्रा का जेहादी सर तन से जुदा करेगा, ये कभी भी कहीं भी हो सकता है। यह अल्लाह का आदेश है।

chaitanya

धमकी के बाद प्रोफेसर का परिवार दहशत में है। उन्होंने कुलपति के साथ-साथ पुलिस को मामले की सूचना देते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई है।

पत्र में रसायन विभाग के प्रयोग प्रदर्शक शशि शेखर झा के स्थानांतरण करने की भी मांग की गई है। कहा गया है कि उनका यहां से स्थानांतरण करवा दो। झा पर चोरी करने का भी आरोप लगाया गया है। धमकी भरे पत्र में लिखा गया है कि अल्लाह का आदेश है कि उसका स्थनांतरण कर दो, ये काम नहीं करोगे तो सिर तन से जुदा कर देंगे। पूरे परिवार के साथ हत्या कर देंगे।

इधर, विश्वविद्यालय थाना के प्रभारी सत्यप्रकाश ने बताया कि प्रोफेसर प्रेम मोहन मिश्रा के बयान पर थाना में एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है तथा पूरे मामले की छानबीन की जा रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस पत्र भेजने वाले के पहचान करने में जुटी है।

--आईएएनएस

एमएनपी/एएनएम