Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश बिजली उपभोक्ताओं के लिए खुशखबरी, कंपनियों से ले सकेंगे मुआवजा

बिजली उपभोक्ताओं के लिए खुशखबरी, कंपनियों से ले सकेंगे मुआवजा

UP BOARD: यूपी बोर्ड इन कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए बना रहा है वेब पोर्टल, मिलेंगी ये सुविधाएं

यूपी बोर्ड (UP Board) प्रदेश के 28 हजार से अधिक स्कूलों में कक्षा 9 से 12वीं तक के विद्यार्थियों की ऑनलाइन पढ़ाई (Online Study)...

Bareilly: किसान आंदोलन के समर्थन में सपा कार्यकर्ताओं सौंपा ज्ञापन, की यह मांग

प्रदेश में पिछले कई दिनों से किसानों का आंदोलन (farmers movement) जारी है। कई विपक्षी पार्टियां किसानों के साथ खड़ी हैं। इसी बीच बरेली...

ड्रग्स मामले में एनसीबी की पूछताछ है जारी, रकुल प्रीत और दीपिका की मैनेजर करिश्मा से चल रही है पूछताछ

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) के ड्रग्स मामले में बॉलीवुड की कई बड़ी हस्तियां एसीबी (NCB) की रडार पर है। ड्रग्स...

पाकिस्तान की घिनौनी करतूत आई दुनिया के सामने, UN में छलका POK कार्यकर्ता का दर्द

पाकिस्तान (Pakistan) अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। इसी बीच पाकिस्तान की एक घिनौनी करतूत दुनिया के सामने आई है। संयुक्त राष्ट्र...

Covid-19: देश में एक दिन में इतने मरीज मिलने से कोरोना की संख्या 58 लाख के पार

भारत में कोरोना वायरस (Corona virus) की संख्या बढ़ती ही जा रही है। जब तक वैक्सीन नहीं आ जाती तब तक लोगों को ऐसे...

बिजली उपभोक्ता (Power Consumers) आए दिन बिल, कनेक्शन आदि समस्याओं को लेकर विभाग (Department)  के रवैये से परेशान होते हैं। लेकिन अब प्रदेश सरकार (State Government) ने उपभोक्ताओं के हित में एक अच्छी पहल की है। अब समय से बिजली समस्याओं का समाधान नहीं मिलने पर उपभोक्ता मुआवजा  (Compensation) ले सकेगा। ये रकम उपभोक्ता के वार्षिक तय चार्ज का अधिकतम 30 प्रतिशत होगा। सरकार ने नए स्टैंडर्ड आफ परफार्मेन्स रेगुलेशन-2019 की अधिसूचना जारी कर दी है।

करीब एक माहीने पहले उत्तर प्रेदश राज्य विद्युत नियामक आयोग ने ये नया कानून बनाया था। इसके तहत बिजली ब्रेक डाउन (power break down) , नया कनेक्शन, केबल फाल्ट, ट्रांसफार्मर, मीटर रीडिंग (meter reading), लोड घटना बढ़ाना सहित अन्य समस्याओं के समाधान के लिए तय समय से ज्यादा लगने पर मुआवजा देने की व्यवस्था की गई है। ये मुआवजा प्रतिदिन के हिसाब से तय होगा। बिजली कंपनियां मुआवजे का भुगतान उपभोक्ता के बिल में करेंगी। बिजली बिल जारी करते समय ही तय मुआवजे की रकम को कम कर दिया जाएगा।  राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा ने नियामक आयोग के चेयरमैन आरपी सिंह से मुलाकात कर इस कानून को लागू कराने के लिए धन्यवाद दिया।

Related News

UP BOARD: यूपी बोर्ड इन कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए बना रहा है वेब पोर्टल, मिलेंगी ये सुविधाएं

यूपी बोर्ड (UP Board) प्रदेश के 28 हजार से अधिक स्कूलों में कक्षा 9 से 12वीं तक के विद्यार्थियों की ऑनलाइन पढ़ाई (Online Study)...

Bareilly: किसान आंदोलन के समर्थन में सपा कार्यकर्ताओं सौंपा ज्ञापन, की यह मांग

प्रदेश में पिछले कई दिनों से किसानों का आंदोलन (farmers movement) जारी है। कई विपक्षी पार्टियां किसानों के साथ खड़ी हैं। इसी बीच बरेली...

ड्रग्स मामले में एनसीबी की पूछताछ है जारी, रकुल प्रीत और दीपिका की मैनेजर करिश्मा से चल रही है पूछताछ

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) के ड्रग्स मामले में बॉलीवुड की कई बड़ी हस्तियां एसीबी (NCB) की रडार पर है। ड्रग्स...

पाकिस्तान की घिनौनी करतूत आई दुनिया के सामने, UN में छलका POK कार्यकर्ता का दर्द

पाकिस्तान (Pakistan) अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। इसी बीच पाकिस्तान की एक घिनौनी करतूत दुनिया के सामने आई है। संयुक्त राष्ट्र...

Covid-19: देश में एक दिन में इतने मरीज मिलने से कोरोना की संख्या 58 लाख के पार

भारत में कोरोना वायरस (Corona virus) की संख्या बढ़ती ही जा रही है। जब तक वैक्सीन नहीं आ जाती तब तक लोगों को ऐसे...

CBSE: सीबीएसई इन क्लासेस के सिलेबस में शामिल करेगा कोरोना वायरस की पढ़ाई

कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से जुड़ी चुनौतियों को अब स्कूल की पढ़ाई में शामिल किया जाएगा। सीबीएसई (CBSE) 11वीं और 12वीं के छात्रों को...