बसपा सांसद एक मामले में बरी, रहेंगे जेल में

वाराणसी, 25 नवंबर (आईएएनएस)। वाराणसी की एमपी/एमपीएलए कोर्ट ने शहर में 2011 में पुलिस पर जानलेवा हमले की साजिश रचने के एक मामले में जेल में बंद मऊ से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सांसद अतुल राय और 15 अन्य आरोपियों को बरी कर दिया। राय फिलहाल प्रयागराज की नैनी जेल में बंद हैं।
 | 
बसपा सांसद एक मामले में बरी, रहेंगे जेल में वाराणसी, 25 नवंबर (आईएएनएस)। वाराणसी की एमपी/एमपीएलए कोर्ट ने शहर में 2011 में पुलिस पर जानलेवा हमले की साजिश रचने के एक मामले में जेल में बंद मऊ से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सांसद अतुल राय और 15 अन्य आरोपियों को बरी कर दिया। राय फिलहाल प्रयागराज की नैनी जेल में बंद हैं।

राय को हाल ही में बलात्कार और अन्य मामलों में बरी कर दिया गया था, लेकिन वह अभी भी सलाखों के पीछे रहेंगे, क्योंकि अभी दो मामले अदालतों में लंबित हैं।

राय के वकील अनुज यादव ने कहा, अतुल राय और 19 अन्य व्यक्तियों को अगस्त 2011 में वाराणसी के छावनी पुलिस स्टेशन के तत्कालीन थाना प्रभारी सुनील वर्मा द्वारा दर्ज एक मामले में आरोपी बनाया गया था। राय पर पुलिस टीम पर हमले की साजिश रचने का आरोप लगाया गया था। मामले की सुनवाई करते हुए विशेष न्यायाधीश एमपी-एमएलए कोर्ट सियाराम चौरसिया ने सबूतों के अभाव में राय सहित अन्य को बरी कर दिया।

chaitanya

अदालत ने प्रधान सचिव (गृह) को मामले के जांच अधिकारी सेवानिवृत्त गयासुद्दीन के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू करने का आदेश भी दिया।

--आईएएनएस

सीबीटी