बच्चे को अगवा करने के आरोप में गुजरात का डॉक्टर, पत्नी गिरफ्तार

सूरत, 24 जनवरी (आईएएनएस)। सूरत ग्रामीण पुलिस ने एक बच्चे के अपहरण के आरोप में वडोदरा जिले से एक डॉक्टर और उसकी पत्नी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने छह साल बाद इस मामले का पर्दाफाश किया।
 | 
सूरत, 24 जनवरी (आईएएनएस)। सूरत ग्रामीण पुलिस ने एक बच्चे के अपहरण के आरोप में वडोदरा जिले से एक डॉक्टर और उसकी पत्नी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने छह साल बाद इस मामले का पर्दाफाश किया।

कामरेज पुलिस निरीक्षक आर बी भटोर ने मीडियाकर्मियों को बताया, जनवरी 2017 में खाठौर की सूफियाबेन ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में एक बच्चे को जन्म दिया था। डिलीवरी के बाद रात में बच्चा गायब हो गया, जिसकी कामरेज थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है।

पुलिस को सालों बाद फोन आया कि 2017 में लापता हुआ बच्चा डॉ. कमलेश ओडे और उनकी पत्नी नयना के पास है, दोनों कर्जन में रहते हैं। पुलिस टीम भेजी गई और दंपति को छह साल के लड़के के साथ कामरेज लाया गया।

अधिकारी ने कहा कि डॉ. कमलेश 108 मेडिकल इमरजेंसी सेवा में कार्यरत हैं और 2017 में कामरेज में तैनात थे। उनकी पत्नी नयना का गर्भपात हो गया था। गर्भधारण के बाद उसका दो से तीन बार गर्भपात हो चुका था और इसलिए दंपती ने किसी के बच्चे को अगवा करने की योजना बनाई थी।

chaitanya

योजना को अंजाम देने के लिए महिला ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का दौरा किया था और टीका लगवाने के बहाने बच्चे का अपहरण कर लिया। पुलिस अधिकारी ने कहा कि अपराध करने के बाद डॉ. कामरेज ने खुद को कर्जन में स्थानांतरित कर लिया और तब से वे कर्जन में रह रहे थे और बच्चे की अच्छी देखभाल कर रहे थे।

chaitanya

--आईएएनएस

एसकेके/एएनएम