प्रधानमंत्री मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से महाकाल एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी

प्रधानमंत्री (Prime Minister) नरेंद्र मोदी रविवार को वाराणसी-चंदौली सीमा पर स्थित पड़ाव पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय (Pandit Deendayal Upadhyay) स्मृति उपवन पहुंचे। यहां उन्होंने उपाध्याय की प्रतिमा का अनावरण किया। साथ ही उनकी स्मृति में बने संग्रहालय का भी लोकार्पण (Inaugurated) किया। इसके साथ ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री ने काशी से उज्जैन जाने वाली महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। आईआरसीटीसी की ट्रेन 82403/82404 काशी महाकाल एक्सप्रेस वाराणसी से चलकर अपराह्नन 03:55 बजे इलाहाबाद जंक्शन पर पहुंची।
वाराणसी और इंदौर के बीच सप्ताह में तीन दिन चलेगी
82403/82404 काशी महाकाल एक्सप्रेस (Mahakal Express) वाराणसी और इंदौर के बीच सप्ताह में तीन दिन चलेगी। हफ्ते में दो दिन लखनऊ और एक दिन इलाहाबाद जंक्शन होकर ये ट्रेन जाएगी।
महाकाल ट्रेन की खासियत  
– इस ट्रेन में सिर्फ शाकाहारी भोजन (vegetarian food) ही उपलब्ध होगा
– हर कोच में पांच सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है
– 1080 सीटों वाली इस ट्रेन का किराया 1626 रुपये है
– आधुनिक सुविधाओं (Modern facilities) से इस ट्रेन को लैस किया गया है
यहां से होकर गुजरेगी ट्रेन
महाकाल एक्सप्रेस लखनऊ, प्रयागराज, कानपुर, बीना, भोपाल, उज्जैन होते हुए इंदौर तक जाएगी।
उत्तराखंड की बड़ी खबरें