Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश प्रणब मुखर्जी को लेकर ये झूठी अफवाह हुई वायरल, अस्पताल प्रशासन ने...

प्रणब मुखर्जी को लेकर ये झूठी अफवाह हुई वायरल, अस्पताल प्रशासन ने खुद अफवाहों का किया खंडन

BAREILLY: जिले में प्रधानमंत्री आवास के लिए इस तारीख तक कर सकते हैं आवेदन

बरेली: जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhanmantri Aawas Yojana) का पंजीकरण अभी जारी रहेगा। प्राधिकरण ने योजना में फ्लैटों के लिए ऑनलाइन आवेदन (Online...

एनसीबी ड्रग्स मामले में आज रकुल प्रीत से करेगी पूछताछ, कल होगी दीपिका समेत इन एक्ट्रेसेस से पूछताछ

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) से जुड़े ड्रग्स मामले में बॉलीवुड अब एनसीबी की रडार पर है। बॉलीवुड सिलेब्रिटीज़ के नाम...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर करेंगे ये काम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज पंडित दीनदयाल उपाध्याय (Pandit Dindayal Upadhyay) की 104वीं जयंती पर भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री ने...

कंगना रनौत की बीएमसी के खिलाफ याचिका पर आज होगी सुनवाई, कंगना ने मांगा है इतना मुआवजा

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के ऑफिस पर बीएमसी द्वारा की गई तोड़फोड़ पर दायर याचिका पर आज बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay High Court) में...

Bareilly: GIC की प्रवक्ता को इन बड़े कार्यों के लिए राष्ट्रपति ने दिया सम्मान

राजकीय बालिका इंटर कॉलेज (Government Girl's Inter College) में अंग्रेजी की प्रवक्ता व राष्ट्रीय सेवा योजना की कार्यक्रम अधिकारी अर्चना राजपूत को उत्कृष्ट कार्यों...

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Former President Pranab Mukherjee) की तबीयत में कोई सुधार नहीं आ रहा है। प्रणब मुखर्जी कोमा में हैं, लेकिन उनकी हालत स्थिर है। सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल (Research and Reffler Hospital) ने प्रणब मुखर्जी की सेहत को लेकर जानकारी साझा की है। अस्पताल ने बताया है कि ‘पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत में आज सुबह से कोई बदलाव नहीं हुआ है। वह अचैतन्य अवस्था में है और फिलहार वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं।’
former president pranab mukherjee corona positiveप्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी (Abhijit Mukherjee) ने गुरुवार को ट्वीट कर लोगों को प्रणब मुखर्जी की सेहत को लेकर फेक न्यूज़ (Fake News) न फैलाने को कहा। उन्होंने ट्वीट किया कि सोशल मीडिया पर प्रतिष्ठित पत्रकारों द्वारा प्रसारित और फर्जी खबरें स्पष्ट रूप से दर्शाते हैं कि भारत में मीडिया से एक न्यूज़ का कारखाना बन गया है।’

गुरुवार की सुबह से ही प्रणब मुखर्जी के निधन की अफवाह सोशल मीडिया (Social Media) पर फैल रही है। इसका खंडन अस्पताल के प्रशासन ने खुद किया और इसके बाद उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी और उनके बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने। शर्मिष्ठा मुखर्जी (Sharmishtha Mukharjee) ने कहा कि मेरे पिता के बारे में अफवाहें झूठी हैं, साथ ही उन्होंने मीडिया से फोन कॉल नहीं करने का भी अनुरोध किया है। आपको बता दें कि वह राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अस्पताल में भर्ती हैं और सोमवार को उनकी ब्रेन सर्जरी भी हुई है।

Uttarakhand Government

http://www.narayan98.co.in/

Narayan College

https://youtu.be/yEWmOfXJRX8

Related News

BAREILLY: जिले में प्रधानमंत्री आवास के लिए इस तारीख तक कर सकते हैं आवेदन

बरेली: जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhanmantri Aawas Yojana) का पंजीकरण अभी जारी रहेगा। प्राधिकरण ने योजना में फ्लैटों के लिए ऑनलाइन आवेदन (Online...

एनसीबी ड्रग्स मामले में आज रकुल प्रीत से करेगी पूछताछ, कल होगी दीपिका समेत इन एक्ट्रेसेस से पूछताछ

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) से जुड़े ड्रग्स मामले में बॉलीवुड अब एनसीबी की रडार पर है। बॉलीवुड सिलेब्रिटीज़ के नाम...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर करेंगे ये काम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज पंडित दीनदयाल उपाध्याय (Pandit Dindayal Upadhyay) की 104वीं जयंती पर भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री ने...

कंगना रनौत की बीएमसी के खिलाफ याचिका पर आज होगी सुनवाई, कंगना ने मांगा है इतना मुआवजा

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के ऑफिस पर बीएमसी द्वारा की गई तोड़फोड़ पर दायर याचिका पर आज बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay High Court) में...

Bareilly: GIC की प्रवक्ता को इन बड़े कार्यों के लिए राष्ट्रपति ने दिया सम्मान

राजकीय बालिका इंटर कॉलेज (Government Girl's Inter College) में अंग्रेजी की प्रवक्ता व राष्ट्रीय सेवा योजना की कार्यक्रम अधिकारी अर्चना राजपूत को उत्कृष्ट कार्यों...

Bareilly: सड़क किनारे वाहन खड़े करने वालों की खैर नहीं, डीआईजी ने जारी किया फरमान

शहर में बड़े वाहनों (heavy vehicles) के एंट्री (entry) के प्रतिबंध के बाद भी जगह-जगह पर बड़े वाहन खड़े नजर आते हैं। इसके कारण...