पेट्रोल डालकर जलाई गई महिला ने दम तोड़ा, अपने ही परिजनों पर लगाया था रेप के प्रयास के आरोप

रांची, 23 जनवरी (आईएएनएस)। हजारीबाग जिले के चरही में पेट्रोल डालकर जलाई गई 23 वर्षीया तिलकी देवी ने हॉस्पिटल में पंद्रह दिनों तक जिंदगी की जंग लड़ने के बाद आखिरकार तम तोड़ दिया। उसका इलाज रांची के एक प्राइवेट ह़स्पिटल में चल रहा था। महिला ने पुलिस को दिए बयान में कहा था कि उसकी ननद हरजीत कौर एवं उसके दो बच्चों ने चारपाई में बांधकर आग लगाई है। उसने एक नाबालिग पर रेप की कोशिश का भी आरोप लगाया था।
 | 
पेट्रोल डालकर जलाई गई महिला ने दम तोड़ा, अपने ही परिजनों पर लगाया था रेप के प्रयास के आरोप रांची, 23 जनवरी (आईएएनएस)। हजारीबाग जिले के चरही में पेट्रोल डालकर जलाई गई 23 वर्षीया तिलकी देवी ने हॉस्पिटल में पंद्रह दिनों तक जिंदगी की जंग लड़ने के बाद आखिरकार तम तोड़ दिया। उसका इलाज रांची के एक प्राइवेट ह़स्पिटल में चल रहा था। महिला ने पुलिस को दिए बयान में कहा था कि उसकी ननद हरजीत कौर एवं उसके दो बच्चों ने चारपाई में बांधकर आग लगाई है। उसने एक नाबालिग पर रेप की कोशिश का भी आरोप लगाया था।

चरही थाने की पुलिस ने इस मामले में महिला के पति परमजीत सिंह सहित कई लोगों से पूछताछ की है। महिला और उसके पति के बयान में फर्क होने के कारण पुलिस इस वारदात के अलग-अलग एंगल पर जांच कर रही है। पीड़िता ने पुलिस को बताया था कि 7 जनवरी की शाम को उसकी ननद सहित उनके बच्चे लोग घर के पिछले दरवाजे से घुस गए। उनके साथ दो अन्य लोग थे, जो उसे एक कमरे में खींचकर रेप का प्रयास करने लगे। उसने विरोध किया तो उसपर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी गई। महिला का शोर सुनकर पड़ोस के लोग पहुंचे। तब तक आरोपी भाग गए थे। महिला ने पुलिस को बताया था कि मदद के लिए चिल्लाने पर पड़ोसियों ने उसे बचाया जबकि पति ने दावा किया कि शोर सुनकर वह पहुंचा था और उसने आग बुझाई थी। महिला का पति पहले से शादीशुदा था और पीड़िता उसकी चौथी पत्नी थी। हजारीबाग के पुलिस अधीक्षक मनोज रतन चोथे ने बताया कि अभी तक मामले में जांच जारी है और आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्राथमिकी में नामजद आरोपियों के अलावा पुलिस घटना में पीड़िता के पति की भूमिका की भी जांच कर रही है।

बता दें कि झारखंड के दुमका में कुछ महीने पहले पेट्रोल आग लगाए जाने की तीन वारदात हुई थी। 23 अगस्त को अंकिता नामक एक छात्रा पर उसी के मुहल्ले में रहने वाले शाहरुख एवं एक अन्य युवक ने एकतरफा प्रेम में पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी। बाद में उसने दम तोड़ दिया था। इस घटना की गूंज पूरे देश में हुई थी। अक्टूबर महीने में इसी जिले के जरमुंडी थाना क्षेत्र के भालकी गांव में भी एक अन्य युवती पर उसके प्रेमी ने पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी। इसी तरह दुमका के खड़कसोल गांव में एक महिला को उसके पति ने ही पेट्रोल डालकर जला दिया था।

chaitanya

--आईएएनएस

एसएनसी/एएनएम