पुडुचेरी सरकार के प्राथमिक स्कूलों के लिए बनेंगे स्मार्ट क्लासरूम

पुडुचेरी, 6 अगस्त (आईएएनएस)। पुडुचेरी सरकार सरकारी प्राथमिक स्कूलों की सभी कक्षाओं को स्मार्ट कक्षाओं में बदलने की योजना बना रही है।
 | 
पुडुचेरी सरकार के प्राथमिक स्कूलों के लिए बनेंगे स्मार्ट क्लासरूम पुडुचेरी, 6 अगस्त (आईएएनएस)। पुडुचेरी सरकार सरकारी प्राथमिक स्कूलों की सभी कक्षाओं को स्मार्ट कक्षाओं में बदलने की योजना बना रही है।

अधिकारियों ने क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालयों में श्रव्य-दृश्य उपकरणों, स्मार्ट टीवी और प्रोजेक्टर, और ई-सामग्री के साथ स्मार्ट कक्षाएं शुरू करने की योजना तैयार की है, जहां सुविधा की योजना है।

प्रारंभिक चरण में क्षेत्र के लगभग 200 प्राथमिक विद्यालयों को स्मार्ट कक्षाओं में परिवर्तित किया जाएगा। यूटी के शिक्षा विभाग के सूत्रों ने आईएएनएस को बताया कि प्रत्येक कक्षा को परिवर्तित करने के लिए लगभग 1.5 से 2 लाख रुपये की जरूरत है और इसके लिए धन का उपयोग समग्र शिक्षा अभियान के माध्यम से किया जाएगा।

chaitanya

पुडुचेरी के शिक्षा मंत्री ए. नमस्सिवयम ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा, हम प्राथमिक स्कूलों को स्मार्ट कक्षाओं में बदलने की प्रक्रिया में हैं और हम धन की तलाश कर रहे हैं। वर्तमान में केंद्र शासित प्रदेश में कक्षा 10 और 12 के सरकारी स्कूल की कक्षाएं हैं। सूचना संचार प्रौद्योगिकी कक्षाएं हैं और हम इसे मध्य और प्राथमिक विद्यालयों में विस्तारित करने की योजना बना रहे हैं, इस प्रकार सभी सरकारी स्कूलों के कक्षाओं को स्मार्ट कक्षाओं में परिवर्तित कर रहे हैं।

शिक्षा विभाग भी निपुण भारत मिशन को लागू करने की प्रक्रिया में है, जिसका उद्देश्य आधारभूत साक्षरता और संख्यात्मकता का एक सक्षम वातावरण बनाना है। यह सुनिश्चित करने के लिए है कि प्रत्येक बच्चा कक्षा 3 तक पहुंचने से पहले लेखन, पढ़ने और संख्यात्मक कौशल हासिल कर ले।

पुडुचेरी सरकार ने पहले ही कक्षाओं को स्मार्ट कक्षाओं में बदलने के लिए बेंगलुरु के एक विक्रेता के साथ चर्चा शुरू कर दी है और राज्य के स्कूल शिक्षा सचिव ए. मुथम्मा ने इस संबंध में एक उच्चस्तरीय चर्चा की थी।

--आईएएनएस

पीजेएस/एसजीके