पंजाब के मंत्री को ग्रीन हाइड्रोजन का अध्ययन के लिए विदेश दौरे की नहीं मिली अनुमति

चंडीगढ़, 23 सितंबर (आईएएनएस)। ग्रीन हाइड्रोजन पर जर्मनी, बेल्जियम और नीदरलैंड के दौरे की मंजूरी नहीं देने के लिए केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए पंजाब के नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत मंत्री अमन अरोड़ा ने शुक्रवार को भाजपा से सवाल किया कि वह आम आदमी पार्टी के नेतृत्व से राजनीतिक रूप से इतनी असुरक्षित क्यों है।
 | 
पंजाब के मंत्री को ग्रीन हाइड्रोजन का अध्ययन के लिए विदेश दौरे की नहीं मिली अनुमति चंडीगढ़, 23 सितंबर (आईएएनएस)। ग्रीन हाइड्रोजन पर जर्मनी, बेल्जियम और नीदरलैंड के दौरे की मंजूरी नहीं देने के लिए केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए पंजाब के नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत मंत्री अमन अरोड़ा ने शुक्रवार को भाजपा से सवाल किया कि वह आम आदमी पार्टी के नेतृत्व से राजनीतिक रूप से इतनी असुरक्षित क्यों है।

अरोड़ा ने कहा, यह पहली बार नहीं है जब केंद्र ने आप नेताओं को अनुमति देने से इनकार किया है। इससे पहले उसने पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को विश्व शहरों के शिखर सम्मेलन में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए सिंगापुर जाने की अनुमति देने से इनकार कर दिया था। दिलचस्प बात यह है कि केंद्रीय नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने 14 सितंबर को अरोड़ा समेत 13 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल की एक सूची को मंजूरी दे दी थी, लेकिन विदेश मंत्रालय (एमईए) ने अरोड़ा को राजनीतिक मंजूरी जारी नहीं की है।

chaitanya

मंत्री ने कहा कि यह दौरा इंडो-जर्मन एनर्जी फोरम द्वारा प्रायोजित था और न तो केंद्र और न ही राज्य सरकार को इसके लिए पैसे खर्च करने थे। उन्होंने कहा कि, आप की जनहितैषी नीतियों की सफलता ने भाजपा के नफरत और झूठ के मॉडल को कड़ी चुनौती दी है।

अरोड़ा ने कहा, 24 सितंबर से 2 अक्टूबर तक का यह दौरा राज्य में भविष्य की जरूरतों को पूरा करने के लिए नए और नवीकरणीय ऊर्जा संसाधनों की योजना बनाने और विकसित करने के अलावा हरित और स्वच्छ वातावरण सुनिश्चित करने के लिए बहुत महत्वपूर्ण था।

--आईएएनएस

केसी/एएनएम