नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने के आरोप में दंपत्ति गिरफ्तार

चेन्नई, 5 अगस्त (आईएएनएस)। तमिलनाडु की क्राइम ब्रांच ने शुक्रवार को कुड्डालोर में एक दंपति को नौकरी दिलाने के नाम पर 40 लाख रुपये लेकर ठगने के आरोप में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार सुधाकर और उनकी पत्नी सागया विन्नारसी को स्थानीय अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।
 | 
नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने के आरोप में दंपत्ति गिरफ्तार चेन्नई, 5 अगस्त (आईएएनएस)। तमिलनाडु की क्राइम ब्रांच ने शुक्रवार को कुड्डालोर में एक दंपति को नौकरी दिलाने के नाम पर 40 लाख रुपये लेकर ठगने के आरोप में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार सुधाकर और उनकी पत्नी सागया विन्नारसी को स्थानीय अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

पुलिस ने कहा कि शिकायतकर्ता जे. जयमाधव सारथी, वृद्धाचलम के एक मित्र के माध्यम से दंपति से मिले थे। पुलिस के मुताबिक, विन्नारसी ने जयमाधव सारथी को बताया कि वह सब-कलेक्टर है और अरियालुर कलेक्ट्रेट में काम करती है। उसने यह भी कहा कि वह अपने संपर्को के माध्यम से लोगों को सरकारी नौकरी दिला सकती हैं।

chaitanya

मामले की जांच कर रही अपराध शाखा पुलिस के अनुसार, दंपति ने जयमाधव सारथी को समाज कल्याण विभाग में सहायक निदेशक के रूप में नौकरी देने का वादा किया और उनसे 11 लाख रुपये लिए।

पुलिस ने कहा कि जयमाधव सारथी की तरह, दंपति ने कई अन्य लोगों को धोखा दिया और सरकारी नौकरी का वादा कर कुल 40 लाख रुपये ऐंठ लिए। जब ठगे गए लोगों ने दंपति से संपर्क किया, तो उन्होंने उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी। जिसके बाद उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

कुड्डालोर जिले के पुलिस अधीक्षक शक्ति गणेशन ने अपराध शाखा पुलिस को मामला दर्ज करने का निर्देश दिया जिसके बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने बताया कि आगे की जांच जारी है।

--आईएएनएस

एचएमए/एसकेपी