inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तराखंड नैनीताल:-नन्दा देवी महोत्सव विधि विधानों के साथ संपन्न , देखिये कैसे हुआ...

नैनीताल:-नन्दा देवी महोत्सव विधि विधानों के साथ संपन्न , देखिये कैसे हुआ विसर्जन

रुद्रपुर: जिला पंचायत का लदान ढुलान ठेकेदार इस तरह हुआ ब्लेक लिस्टेड, डीएम बरेली भी करेंगे यह जांच

रुद्रपुर। जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी ने लदान ढुलान के ठेकेदार शशांक चांडक को शासन द्वारा गठित जांच समिति की रिपोर्ट आने तक...

देहरादून- उत्तराखंड में आज कोरोना से हुई इतनी मौते, इस जिले में मिले सबसे अधिक पॉजिटिव केस

उत्तराखंड में आज 530 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में आंकड़ा बढ़कर 73527 हो गया है। जबकि 5 लोगों की...

देहरादून- सीएम त्रिवेन्द्र ने यहां किया पराई सत्र का शुभारंभ, की डोईवाला प्लांट के आधुनिकीकरण की घोषणा

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को शुगर कम्पनी लिमिटेड डोईवाला के पराई सत्र 2020-21 का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि पिछले...

देहरादून- जाने क्या है उत्तराखंड के इस पद्मश्री सम्मान विजेता की कहानी, क्यो सरकार ने दिया खास सम्मान

आदित्य नारायण पुरोहित एक भारतीय वैज्ञानिक और प्रोफेसर हैं, जिन्होंने मुख्य रूप से पेड़ की प्रजातियों और उच्च ऊंचाई वाले औषधीय पौधों के शरीर...

गरमपानी-सालों बाद पंजाब से घर लौटे छोटे भाई को बड़े भाई ने परिवार समेत धूना, सिर पर लगे 25 टांके

गरमपानी-सालों बाद घर लौटे एक युवक पर उसी के भाई ने जानलेवा हमला कर दिया। मारपीट में छोटा भाई का पूरा परिवार घायल हो...

हरीश चन्द्रा

नैनीताल का नन्दा देवी महोत्सव विधि विधानों के आयोजन के साथ ही संपन्न हो गया है । आयोजक राम सेवक सभा ने नियमों के तहत ऐहतियात बरतते हुए माँ के 118वें डोले को माँ नयना देवी मंदिर परिसर में परिक्रमा कराई और वहीं से नैनीझील में विसर्जित कर दिया ।

नैनीताल में आज नन्दा देवी महोत्सव का विधिवत डोला विसर्जन के साथ समापन हो गया । सवेरे आयोजक राम सेवक सभा के सदस्यों ने माँ नन्दा सुनंदा की पूजा अर्चना की । इसके बाद मंदिर परिसर में माँ के डोले को परिक्रमा कराई गई । मंदिर परिसर में प्रवेश वर्जित होने के कारण चुनिंदा लोग ही अंदर आ सके । आम लोगों को मंदिर में प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई । मंदिर के चारों तरफ भक्तों ने गेट के बाहर से परिक्रमा और माँ के दर्शन किये । दर्शनों का समय पूरा होने के बाद माँ के आभूषणों को उतारकर संभाला गया । इसके बाद धीरे धीरे माँ की प्रतिमा को बनाने में इस्तेमाल किये गए ईको फ्रेंडली सामान को निकालकर नैनीझील में विसर्जित किया गया

बीती 23 अगस्त से शुरू हुए इस कार्यक्रम में मौजूद अध्यक्ष और पूर्व अध्यक्षों ने बताया कि इस वर्ष सामान्य रूप से मेले का आयोजन किया गया है और पुजारियों ने विश्व को कोरोना मुख्त करने की प्रार्थना की है ।

Related News

रुद्रपुर: जिला पंचायत का लदान ढुलान ठेकेदार इस तरह हुआ ब्लेक लिस्टेड, डीएम बरेली भी करेंगे यह जांच

रुद्रपुर। जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी ने लदान ढुलान के ठेकेदार शशांक चांडक को शासन द्वारा गठित जांच समिति की रिपोर्ट आने तक...

देहरादून- उत्तराखंड में आज कोरोना से हुई इतनी मौते, इस जिले में मिले सबसे अधिक पॉजिटिव केस

उत्तराखंड में आज 530 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में आंकड़ा बढ़कर 73527 हो गया है। जबकि 5 लोगों की...

देहरादून- सीएम त्रिवेन्द्र ने यहां किया पराई सत्र का शुभारंभ, की डोईवाला प्लांट के आधुनिकीकरण की घोषणा

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को शुगर कम्पनी लिमिटेड डोईवाला के पराई सत्र 2020-21 का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि पिछले...

देहरादून- जाने क्या है उत्तराखंड के इस पद्मश्री सम्मान विजेता की कहानी, क्यो सरकार ने दिया खास सम्मान

आदित्य नारायण पुरोहित एक भारतीय वैज्ञानिक और प्रोफेसर हैं, जिन्होंने मुख्य रूप से पेड़ की प्रजातियों और उच्च ऊंचाई वाले औषधीय पौधों के शरीर...

गरमपानी-सालों बाद पंजाब से घर लौटे छोटे भाई को बड़े भाई ने परिवार समेत धूना, सिर पर लगे 25 टांके

गरमपानी-सालों बाद घर लौटे एक युवक पर उसी के भाई ने जानलेवा हमला कर दिया। मारपीट में छोटा भाई का पूरा परिवार घायल हो...

रुद्रपुर: हाइवे पर किसानों ने जमाया डेरा, बेहड़ ने समर्थन देकर कही यह बात

रुद्रपुर । किसान विरोधी अध्यादेशों के खिलाफ प्रदर्शन करने दिल्ली जा रहे तराई के किसानों को रुद्र बिलास चीनी मिल के पास पुलिस द्वारा...