दो महिलाओं की हत्या करने वाले आरोपियों को कर्नाटक पुलिस ने किया गिरफ्तार

मांड्या (कर्नाटक), 5 अगस्त (आईएएनएस)। कर्नाटक के मांड्या जिले की एक नहर से दो महिलाओं के शव मिल हैं। इसकी जानकारी कर्नाटक पुलिस ने शुक्रवार को दी।
 | 
दो महिलाओं की हत्या करने वाले आरोपियों को कर्नाटक पुलिस ने किया गिरफ्तार मांड्या (कर्नाटक), 5 अगस्त (आईएएनएस)। कर्नाटक के मांड्या जिले की एक नहर से दो महिलाओं के शव मिल हैं। इसकी जानकारी कर्नाटक पुलिस ने शुक्रवार को दी।

जांच के बाद पुलिस ने इस मामले में अब तक दो लोगों को गिरफ्तार किया है -- रामनगर जिले के कुदुर शहर के पास कोडीहल्ली कॉलोनी निवासी सिद्दलिंगप्पा (35) और मांड्या जिले के पांडवपुरा कस्बे के पास हरवु गांव निवासी चंद्रकला।

जांच से पता चला कि, आरोपियों ने एक और महिला की हत्या की थी। इसके अलावा आरोपी पांच और हत्याओं को अंजाम देने की योजना बना रहे थे।

chaitanya

पुलिस महानिरीक्षक मैसूर दक्षिण क्षेत्र प्रवीण मधुकर पवार ने कहा कि हत्यारे पैसे के विवाद, ईष्र्या और अवैध लाभ के सिलसिले में हत्या करना चाहते थे।

आरोपी दोनों महिलाओं को जानते थे जिनकी हत्या हुई। आरोपियो ने पीड़िता को नसिर्ंग होम और गारमेंट फैक्ट्री में नौकरी दिलाने का झांसा देकर अपने घर बुलाया था।

जिन महिलाओं के शव आधे कटे हुए मिले, उनकी पहचान चित्रदुर्ग जिले के होसदुर्गा निवासी पार्वती और दूसरी चामराजनगर की रहने वाली गीता उर्फ पुट्टी के रूप में हुई है।

हत्यारों ने 30 मई को पार्वती और 3 जून को गीता की हत्या कर दी थी। पीड़ितों के शवों को दो टुकड़ों में काट दिया गया था क्योंकि हत्यारों को उनके घर से बाइक पर शवों को ले जाना मुश्किल हो गया था। दोनों महिलाओं के कटे हुए शव 8 जून को मांड्या की एक नहर के पास दो अलग-अलग स्थानों पर मिले।

एक कटा हुआ शव के. बेट्टनहल्ली के पास बेबी लेक नहर में और दूसरा अराकेरे गांव के पास सीडीएस नहर में पाया गया, जो मांड्या जिले के पांडवपुरा टाउन और अरकेरे पुलिस थानों के अंतर्गत आता है।

शुरूआत में मामले की जांच में कोई प्रगति नहीं होने पर मांड्या पुलिस ने सुराग देने वाले को एक लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की थी।

पुलिस टीम ने क्षत-विक्षत शवों के बारे में आसपास के इलाकों में 10,000 पर्चियां बांटी थीं। पुलिस ने मामले को सुलझाने के लिए नौ विशेष टीमों और दो तकनीकी टीमों का गठन किया।

पुलिस ने पड़ोसी राज्यों में महिलाओं के लापता होने के 1,116 मामलों का सत्यापन किया। जांच दल को चरमराजनगर थाने में गीता नाम की एक लापता महिला के बारे में पता चला। गीता उन दो पीड़ितों में से एक थी जिनके शरीर को आधा काट दिया गया था।

पुलिस ने लापता मामले की जांच की तो पता चला कि गीता और शरीर के बरामद आधे हिस्से के बीच काफी समानताएं थीं। पुलिस ने गीता द्वारा किए गए फोन कॉल्स को ट्रैक किया और हत्यारों को पकड़ लिया।

आरोपियों ने बाद में कबूल किया कि, उन्होंने बेंगलुरु में कुमुदा नाम की एक और महिला की हत्या की है। उन्होंने आगे कहा कि वे कुमुदा के शव को बाइक पर ले गए और कहीं फेंक दिया।

पुलिस जांच जारी रखे हुए है। मांड्या एसपी एन. यतीश ने जांच की निगरानी की और टीम को 1 लाख रुपये का नकद पुरस्कार दिया।

--आईएएनएस

पीटी/एसकेपी