inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश दो दिवसीय अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों का सम्मेलन गुजरात में 25 व...

दो दिवसीय अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों का सम्मेलन गुजरात में 25 व 26 नवंबर को

बरेली: विडंबना, दो दिन पहले जिसे डोली में बिठाया, उसी बिटिया की अर्थी उठानी पड़ी पिता को

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। शादी के दो दिन बाद ही ससुराल में अनहोनी का शिकार हुई शिवानी के पिता ने पति और उसके घरवालों पर...

बरेली: हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाहन स्वामियों के लिए बनी सर दर्द

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (एचएसआरपी) को ऑनलाइन आवेदन करने में लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस...

एटा: निःशुल्क नेत्र शिविर में पुलिस ने कराया चालकों का चेकअप

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के एटा जिले में नि-शुल्‍क नेत्र शिविर का आयोजन किया गया। इस मौके पर पुलिस ने वाहन चालकों का चेकअप कराया।...

संभल: केन्द्र सरकार के तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस लेने के लिए गरजे किसान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। केन्द्र सरकार द्वारा पारित कराए गए तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस कराने की मांग करते हुए किसानों ने सडक पर जाम...

संभल: खिलाड़ियों को जल्द मिलेंगी अत्याधुनिक सुविधाएं, खेल मैदान का अफसरों ने किया निरीक्षण

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के संभल जिले में खिलाड़ियों को सुविधाएं मुहैया कराने की कवायद तेज हो गई है। शनिवार को अफसरों ने खेल...

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। गुजरात में दो दिवसीय अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्‍मेलन का आयोजन 25 नवंबर से किया जाएगा। लोकसभा अध्‍यक्ष ओम बिड़ला ने यह जानकारी देते हुए मीडिया को बताया कि इस वर्ष विधायिकाकार्यपालिका और न्यायपालिका का सद्भावपूर्ण समन्वय-जीवंत लोकतंत्र की कुंजी। विषय पर सम्‍मेलन आयोजित किया जा रहा है। बताया कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे।

यह सम्‍मेलन गुजरात के केवड़िया में सम्‍पन्‍न होगा। दो दिवसीय सम्‍मेलन में देश भर से पीठासीन अधिकारी की जिम्‍मेदारी निभाने वाले कार्मिक व अफसर भाग लेंगे। यह सम्‍मेलन 25 व 26 नवंबर को आयोजित किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी सम्‍मेलन के समापन सत्र को 26 नवंबर को संबोधित करेंगे।

बिड़ला ने कहा कि संवैधानिक पवित्रता को बनाए रखने के लिए यह हमारा सामूहिक प्रयास है, जो देश में शासन के तीनों अंगों और लोकतंत्र के निर्वहन के बीच आपसी सह-अस्तित्व के लिए महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि विभिन्न सत्रों में पीठासीन अधिकारी विचारों का आदान-प्रदान करने के साथ ही सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करेंगे। उन्होंने बताया कि संसद और विधानसभाओं की कार्यवाही को और अधिक लाभकारी बनाने के तरीकों पर भी चर्चा की जाएगी। 26 नवंबर संविधान दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सम्मेलन के समापन सत्र को संबोधित करेंगे।

Related News

बरेली: विडंबना, दो दिन पहले जिसे डोली में बिठाया, उसी बिटिया की अर्थी उठानी पड़ी पिता को

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। शादी के दो दिन बाद ही ससुराल में अनहोनी का शिकार हुई शिवानी के पिता ने पति और उसके घरवालों पर...

बरेली: हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाहन स्वामियों के लिए बनी सर दर्द

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (एचएसआरपी) को ऑनलाइन आवेदन करने में लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस...

एटा: निःशुल्क नेत्र शिविर में पुलिस ने कराया चालकों का चेकअप

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के एटा जिले में नि-शुल्‍क नेत्र शिविर का आयोजन किया गया। इस मौके पर पुलिस ने वाहन चालकों का चेकअप कराया।...

संभल: केन्द्र सरकार के तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस लेने के लिए गरजे किसान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। केन्द्र सरकार द्वारा पारित कराए गए तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस कराने की मांग करते हुए किसानों ने सडक पर जाम...

संभल: खिलाड़ियों को जल्द मिलेंगी अत्याधुनिक सुविधाएं, खेल मैदान का अफसरों ने किया निरीक्षण

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के संभल जिले में खिलाड़ियों को सुविधाएं मुहैया कराने की कवायद तेज हो गई है। शनिवार को अफसरों ने खेल...

संभल: जाको राखे साईयां, मार सके ना कोय, नीरज को मोहम्मद फैसल ने रक्तदान कर बचाई जान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। एक ओर जहां धर्म और जाति की राजनीति समाज में जहर घोलने का घिनौना कार्य करने से बाज नहीं आते। वहीं...