दलित छात्रों, हिंदू दुकानदारों के बीच लड़ाई के बाद तमिलनाडु के नमक्कल में तनाव

चेन्नई, 22 सितंबर (आईएएनएस)। तमिलनाडु के नमक्कल जिले के पेरिया मनाल शहर में अनुसूचित जाति के छात्रों और स्थानीय व्यापारी संघ के प्रमुख के बीच हुई झड़प के बाद दुकानदारों ने अपनी दुकान के शटर गिरा दिए।
 | 
दलित छात्रों, हिंदू दुकानदारों के बीच लड़ाई के बाद तमिलनाडु के नमक्कल में तनाव चेन्नई, 22 सितंबर (आईएएनएस)। तमिलनाडु के नमक्कल जिले के पेरिया मनाल शहर में अनुसूचित जाति के छात्रों और स्थानीय व्यापारी संघ के प्रमुख के बीच हुई झड़प के बाद दुकानदारों ने अपनी दुकान के शटर गिरा दिए।

स्थानीय अन्नाद्रमुक नेता और पेरिया मनाली ट्रेडर्स एसोसिएशन के प्रमुख 58 वर्षीय थंगमणि की रोड रेज को लेकर एक ट्रक ड्राइवर के साथ जुबानी जंग हो गई थी।

पुलिस के अनुसार, थंगमणि ने ट्रक चालक के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल किया जिसके बाद कक्षा 12वीं के दो छात्रों ने बीच-बचाव किया। छात्रों ने थंगमणि से अपशब्दों का प्रयोग न करने को कहा तो उनके बीच कहासुनी हो गई और थंगमणि के बेटे भूबलन और उसके करीबी शेखर मौके पर पहुंच गए। उन्होंने छात्रों पर हमला कर दिया। यहां तक भूबलन ने छात्रों को थंगमणि के सामने घुटने टेकने और माफी मांगने को भी कहा।

chaitanya

इसकी जानकारी होने पर स्थानीय दलित संगठन के कुछ कार्यकर्ता मौके पर पहुंचे और छात्रों को अस्पताल में भर्ती कराया। इसके अलावा थंगमणि को भी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शिकायत मिलने पर, स्थानीय पुलिस ने थंगमणि, उनके बेटे और रिश्तेदार पर एससी/एसटी अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने थंगमणि, भूबलन और शेखर की शिकायत पर दोनों लड़कों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है।

व्यापारी, उसका बेटा और रिश्तेदार फरार हैं। सामाजिक असामंजस्य की वजह से तमिलनाडु के कुछ क्षेत्रों में सवर्ण हिंदुओं और दलितों के बीच खूनी संघर्ष की खबरें हैं। इलाचीपलयम पुलिस ने आईएएनएस को बताया कि मामले की जांच की जा रही है। थंगमणि पर हमले के विरोध में पेरिया मनाल के स्थानीय व्यापारियों ने अपनी दुकानें बंद कर दीं।

--आईएएनएस

केसी/एसजीके