तिहरे हत्याकांड में वांछित फरार अपराधी गिरफ्तार

नई दिल्ली, 25 नवंबर (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस ने 29 वर्षीय एक वांछित अपराधी को गिरफ्तार किया है, जो उत्तर प्रदेश के मथुरा में 2021 में हुए तिहरे हत्याकांड में फरार था। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।
 | 
तिहरे हत्याकांड में वांछित फरार अपराधी गिरफ्तार नई दिल्ली, 25 नवंबर (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस ने 29 वर्षीय एक वांछित अपराधी को गिरफ्तार किया है, जो उत्तर प्रदेश के मथुरा में 2021 में हुए तिहरे हत्याकांड में फरार था। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

आरोपी की पहचान उत्तर प्रदेश के एटा जिले के रहने वाले रवि कुमार के रूप में हुई है। उसे राष्ट्रीय राजधानी के दरियागंज इलाके से गिरफ्तार किया गया। पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) श्वेता चौहान के मुताबिक, 25 नवंबर को पुख्ता जानकारी मिली थी कि मथुरा के तिहरे हत्याकांड में वांछित एक अपराधी का इलाके में आना-जाना लगा रहता है।

chaitanya

गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए जाल बिछाया गया और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने बताया कि मौके से आरोपी के कब्जे से एक गोली के साथ एक देसी पिस्तौल भी बरामद की गई है। पूछताछ करने पर, आरोपी ने मथुरा के भीषण तिहरे हत्याकांड में अपनी संलिप्तता का खुलासा किया जिसमें एक महिला और उसके दो बच्चों (6 और 8 वर्ष की आयु) को यमुना एक्सप्रेसवे पर रवि और उसके सहयोगियों यशपाल, अजय और अरविंद द्वारा बेरहमी से मार डाला गया था।

2 नवंबर 2021 को अजय ने रवि से संपर्क किया और उसे अपने उस्ताद यशपाल के परिवार को उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद ले जाने के लिए नजफगढ़ आने के लिए कहा। आरोपी रात में दिल्ली आ गए और अजय, अरविंद, यशपाल, करिश्मा, सूर्यांश (8) और दिव्यांश (6) फिरोजाबाद के लिए गाड़ी में सवार हो गए। करिश्मा यशपाल की पत्नी थीं और बच्चे उनके बच्चे पिछली शादी से थे।

गाड़ी जब हरियाणा के पलवल पहुंची तो सभी लोगों ने शराब पी और उसके बाद अरविंद ने करिश्मा का गला दबा दिया जबकि अजय ने दोनों बच्चों का गला दबा दिया। इसके बाद शवों को यमुना एक्सप्रेसवे पर फेंक दिया गया। पुलिस ने कहा कि अजय, अरविंद और यशपाल को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है जबकि रवि पिछले एक साल से फरार था।

--आईएएनएस

केसी/एएनएम