Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश तिब्बती जवान की अंतिम विदाई में गूंजे भारत माता की जय के...

तिब्बती जवान की अंतिम विदाई में गूंजे भारत माता की जय के नारे, तिब्बत का चीन को कड़ा संदेश

Bareilly: CM योगी ने बरेली को दिया यह तोहफा, कोरोना पर काबू पाने में मिलेगी मदद

आज का दिन बरेली वासियों के लिए ऐतिहासिक दिन है। आज सीएम योगी आदित्यनाथ ने बरेली में बने कोविड हॉस्पिटल (covid-19 hospital) का उद्घाटन...

COVID-19: प्रदेश में पिछले 24 घंटों में सामने आए संक्रमण के इतने नए केस, रिकवरी रेट हुआ 85.34 प्रतिशत

उत्तर प्रदेश में कोरोना (Corona) का कहर बढ़ने लगा है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 4,069 नए मरीज (New Patient) सामने आए हैं...

एनसीबी ने हाई कोर्ट में दाखिल किया एफिडेविट, रिया चक्रवर्ती को लेकर किया ये बड़ा खुलासा

रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) और उनके भाई शोविक चक्रवर्ती की जमानत याचिका का विरोध करते हुए नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) द्वारा दाखिल एफिडेविट में...

Unlock-5 Guidelines: केंद्रीय गृह मंत्रालय अनलॉक-5 में दे सकता है इन चीजों में छूट

अनलॉक 5 की गाइडलाइंस में केंद्रीय गृह मंत्रालय (Union Ministry of Home Affairs) रेलवे थोड़ी दूरी की ट्रेनों को चलाने की अनुमति दे सकता...

Bareilly: जमीनी विवाद में पहले हुई मारपीट फिर चलीं गोलियां, अब वीडियो हो गया वायरल

बरेली में मारपीट की घटना आम होती जा रही हैं। लेकिन कभी-कभी यह घटनाएं भयानक रूप भी ले लेती हैं। एक ऐसी घटना आज...

सीमा विवाद (border dispute) को लेकर भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है। इसी बीच तिब्बत की ओर से चीन को एक कड़ा संदेश दिया गया है। एलएसी पर शहीद हुए एसएफएफ तिब्बती जवान नाइमा तेनजिंग (Naima Tenjin) को सोमवार को पूरे सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। उनके पार्थिव शरीर पर भारत और स्वतंत्र दिवस का ध्वज लपेटा गया। इस दौरान भारत माता की जय और इंडियन आर्मी के नारे भी लगे।
india china firing
स्पेशल फ्रंटियर फोर्स (special frontier force) के तिब्बती जवान नाइमा तेंजिन बारूद की सुरंग में हुए विस्फोट में शहीद हो गए थे। उन्हें सोमवार को पूरे सम्मान के साथ अंतिम विदाई गई। इस दौरान विकास रेजीमेंट की जय, एसएफएफ जिंदाबाद के साथ-साथ भारत माता की जय के नारे भी लगे। आपको बता दें कि नाइमा तेंजिन भारत की सुपर सीक्रेट विकास रेजिमेंट (Vikas regiment) के कमांडो थे। जो स्पेशल फ्रंटियर फोर्स का हिस्सा है। 29-30 अगस्त की रात पैंगोंग झील के किनारे पर चीनी सेना की घुसपैठ को नाकाम करने में उनका पूरा योगदान रहा। इसी दौरान बारूदी सुरंग की चपेट में आकर उनकी जान गई थी।
                   http://www.narayan98.co.in/
naryan college                     https://youtu.be/yEWmOfXJRX8

Related News

Bareilly: CM योगी ने बरेली को दिया यह तोहफा, कोरोना पर काबू पाने में मिलेगी मदद

आज का दिन बरेली वासियों के लिए ऐतिहासिक दिन है। आज सीएम योगी आदित्यनाथ ने बरेली में बने कोविड हॉस्पिटल (covid-19 hospital) का उद्घाटन...

COVID-19: प्रदेश में पिछले 24 घंटों में सामने आए संक्रमण के इतने नए केस, रिकवरी रेट हुआ 85.34 प्रतिशत

उत्तर प्रदेश में कोरोना (Corona) का कहर बढ़ने लगा है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 4,069 नए मरीज (New Patient) सामने आए हैं...

एनसीबी ने हाई कोर्ट में दाखिल किया एफिडेविट, रिया चक्रवर्ती को लेकर किया ये बड़ा खुलासा

रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) और उनके भाई शोविक चक्रवर्ती की जमानत याचिका का विरोध करते हुए नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) द्वारा दाखिल एफिडेविट में...

Unlock-5 Guidelines: केंद्रीय गृह मंत्रालय अनलॉक-5 में दे सकता है इन चीजों में छूट

अनलॉक 5 की गाइडलाइंस में केंद्रीय गृह मंत्रालय (Union Ministry of Home Affairs) रेलवे थोड़ी दूरी की ट्रेनों को चलाने की अनुमति दे सकता...

Bareilly: जमीनी विवाद में पहले हुई मारपीट फिर चलीं गोलियां, अब वीडियो हो गया वायरल

बरेली में मारपीट की घटना आम होती जा रही हैं। लेकिन कभी-कभी यह घटनाएं भयानक रूप भी ले लेती हैं। एक ऐसी घटना आज...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक कार्यक्रम के दौरान चीन को लेकर कही ये बात

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बांगरमऊ की एक राइस मिल में सोमवार आयोजित कार्यक्रम में कहा चीन के विषय में बात की...