डब्ल्यूबीएसएससी घोटाला : सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई जांच के कलकत्ता हाईकोर्ट के आदेश पर लगाई रोक

नई दिल्ली, 25 नवंबर (आईएएनएस)। सर्वोच्च न्यायालय ने शुक्रवार को कलकत्ता उच्च न्यायालय की खंडपीठ के उस आदेश पर रोक लगा दी, जिसमें करोड़ों रुपये के पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग (डब्ल्यूबीएसएससी) भर्ती घोटाले की सीबीआई जांच के लिए एकल न्यायाधीश के आदेश को बरकरार रखा गया था।
 | 
डब्ल्यूबीएसएससी घोटाला : सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई जांच के कलकत्ता हाईकोर्ट के आदेश पर लगाई रोक नई दिल्ली, 25 नवंबर (आईएएनएस)। सर्वोच्च न्यायालय ने शुक्रवार को कलकत्ता उच्च न्यायालय की खंडपीठ के उस आदेश पर रोक लगा दी, जिसमें करोड़ों रुपये के पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग (डब्ल्यूबीएसएससी) भर्ती घोटाले की सीबीआई जांच के लिए एकल न्यायाधीश के आदेश को बरकरार रखा गया था।

वरिष्ठ अधिवक्ता ए.एम. सिंघवी ने पश्चिम बंगाल सरकार का प्रतिनिधित्व करते हुए मुख्य न्यायाधीश डी.वाई. की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष मामले का उल्लेख किया। चंद्रचूड़ से कहा कि इस हफ्ते की शुरुआत में उच्च न्यायालय के एकल न्यायाधीश ने प्रथम ²ष्टया यह माना था कि आयोग द्वारा दायर आवेदन एक बेनामी आवेदन था और यह जानना चाहा था कि इसका मसौदा किसने तैयार किया था।

chaitanya

सिंघवी ने तर्क दिया कि शिक्षा विभाग के सचिव को उच्च न्यायालय ने परीक्षा के लिए बुलाया है। उन्होंने कहा कि उच्च न्यायालय की एकल पीठ ने सीबीआई जांच को यह पता लगाने का आदेश दिया कि आवेदन किसके दिमाग की उपज था।

पीठ, जिसमें न्यायमूर्ति हिमा कोहली भी शामिल थीं, को सूचित किया गया कि आयोग ने याचिका वापस लेने की स्वतंत्रता मांगी थी, लेकिन उच्च न्यायालय ने इसकी अनुमति नहीं दी और आवेदन की उत्पत्ति पर सीबीआई जांच का आदेश दिया।

सिंघवी की दलीलों को सुनने के बाद शीर्ष अदालत ने उच्च न्यायालय के उस आदेश पर रोक लगा दी जिसमें सीबीआई जांच का आदेश दिया गया था।

शीर्ष अदालत ने पश्चिम बंगाल के प्रधान सचिव मनीष जैन को व्यक्तिगत रूप से पेश होने के उच्च न्यायालय के आदेश पर भी रोक लगा दी।

--आईएएनएस

सीबीटी