Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश झोलाछाप से इलाज करवाने पर चली गई 10वीं की छात्रा की जान

झोलाछाप से इलाज करवाने पर चली गई 10वीं की छात्रा की जान

Covid Vaccine: भारत बायोटेक बनाएगी एक अरब कोरोना वैक्सीन

पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी (Corona virus vaccine) से परेशान है। सभी लोगों की आस कोरोना वैक्सीन पर लगी हुई है। इसी बीच कोरोना...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन श्वेता ने शेयर किया फैंस द्वारा भेजे गए मैसेज का वीडियो, और कहीं ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) सोशल मीडिया पर लगातार सुशांत के लिए न्याय की मांग...

टाइम मैगज़ीन ने जारी की 100 प्रभावशाली लोगों की सूची, PM मोदी के साथ ये लोग भी हैं शामिल

साल 2020 में दुनिया भर के सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची प्रतिष्ठित मैगजीन 'टाइम' (time magazine) ने जारी कर दी है। टाइस मैग्जीन की...

MJPR University: विवि के नए कुलपति आते ही NAAC की निरीक्षण कमेटी में हुए बदलाव

रुहेलखंड विश्वविद्यालय (Rohilkhand University) में नए कुलपति आते ही NAAC के मूल्यांकन की तैयारी तेजी से होने लगी है। कुलपति ने शोध के मामलों...

Bareilly: विद्युत कर्मचारी निजीकरण के विरोध में शुरू करेंगे यह अभियान, सरकार को दी चेतावनी

विद्युत विभाग में निजीकरण किए जाने का विरोध तेजी से चल रहा है। इसके लिए विद्युत कर्मचारियों ने निजीकरण के विरोध में पंडित दीनदयाल...

बरेली: झोलाछाप के इलाज के दौरान 10वीं की छात्रा की मौत हो गई। परिवार वालों ने बताया झोलाछाप के इलाज के दौरान छात्रा की हालत बिगड़ी तो उसे चंदौसी ले गए वहां डॉक्टर ने छात्रा की गंभीर हालत देख इलाज से मना कर दिया। इसके बाद परिवार वाले छात्रा को मुरादाबाद ले गए। वहां डॉक्टरों ने एम्स के लिए रैफर (Refer) किया। छात्रा को एम्स (AIIMS) ले जाने के दौरान रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। इससे गुस्‍साए परिवार वालों ने झोलाछाप के क्लीनिक (Clinic) पर पहुंचकर हंगामा किया। झोलाछाप मौका पाकर वहां से निकल गई। मामले की तहरीर पुलिस को नहीं दी गई है।
Jholachaap doctorनवाबपुरा खुर्द के निवासी ताराचंद की 14 वर्षीय बेटी शिवानी 10वीं की छात्रा थी। वह लाल जीवन इंटर कॉलेज में परीक्षा दे रही थी। परिवार वालों ने बताया 2 दिन पहले शिवानी को पेचिस शुरु हो गई। जिसकी दवा गांव की ही झोलाछाप महिला डॉक्टर से दिला दी। छात्रा की हालत में कुछ सुधार आया तो वह परीक्षा देने चली गई। इसके बाद दोबारा छात्रा की हालत बिगड़ी तो उसे झोलाछाप के पास लाया गया। परिवार वालों का आरोप है कि झोलाछाप की दवा देने के बाद से ही उसकी हालत बिगड़ गई। इसके बाद उसे चंदौसी ले गए।

छात्रा की गंभीर हालत देख डॉक्टर ने इलाज करने से मना कर दिया। इसके बाद उसे मुरादाबाद ले गए। वहां डॉक्टरों ने उसे एम्स ले जाने की सलाह दी। एम्स ले जाते वक्त रास्ते में ही छात्रा की मौत हो गई। कोतवाल राहुल सिंह ने कहा की परिवार वालों की ओर से अभी तक इसकी तहरीर नहीं दी गई है। तहरीर मिलने के बाद ही झोलाछाप के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Homeopathic medicine for uric Acid

Related News

Covid Vaccine: भारत बायोटेक बनाएगी एक अरब कोरोना वैक्सीन

पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी (Corona virus vaccine) से परेशान है। सभी लोगों की आस कोरोना वैक्सीन पर लगी हुई है। इसी बीच कोरोना...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन श्वेता ने शेयर किया फैंस द्वारा भेजे गए मैसेज का वीडियो, और कहीं ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) सोशल मीडिया पर लगातार सुशांत के लिए न्याय की मांग...

टाइम मैगज़ीन ने जारी की 100 प्रभावशाली लोगों की सूची, PM मोदी के साथ ये लोग भी हैं शामिल

साल 2020 में दुनिया भर के सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची प्रतिष्ठित मैगजीन 'टाइम' (time magazine) ने जारी कर दी है। टाइस मैग्जीन की...

MJPR University: विवि के नए कुलपति आते ही NAAC की निरीक्षण कमेटी में हुए बदलाव

रुहेलखंड विश्वविद्यालय (Rohilkhand University) में नए कुलपति आते ही NAAC के मूल्यांकन की तैयारी तेजी से होने लगी है। कुलपति ने शोध के मामलों...

Bareilly: विद्युत कर्मचारी निजीकरण के विरोध में शुरू करेंगे यह अभियान, सरकार को दी चेतावनी

विद्युत विभाग में निजीकरण किए जाने का विरोध तेजी से चल रहा है। इसके लिए विद्युत कर्मचारियों ने निजीकरण के विरोध में पंडित दीनदयाल...

सुशांत सिंह राजपूत केस में हो सकती है चौथी एजेंसी की एंट्री, केंद्र सरकार ने ड्रग्स संबंधी मामलों की जांच के लिए दी मंजूरी

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) में सीबीआई, ईडी, एनसीबी के बाद अब चौथी एजेंसी एनआईए भी शामिल हो सकती है। ड्रग्स...