inspace haldwani
inspace haldwani
Home Uncategorized जागेश्वर- हरीश रावत ने ललकारा सरकार को बोले, क्यों रोका हरि प्रसाद...

जागेश्वर- हरीश रावत ने ललकारा सरकार को बोले, क्यों रोका हरि प्रसाद टम्टा संस्था

बरेली: डीडीपुरम के ग्रीन चिली रेस्टोरेंट में दर्जन भर किशोर पी रहे थे हुक्का पुलिस आई, फिर क्या‍ हुआ देखें यह खबर…

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बरेली के पाश इलाकों में रेस्‍टोरेंट की आड़ में हुक्‍का बार चलने पर रोक नहीं लग पा रही है । पुलिस...

बरेली: चौपला रूट पर सोमवार से बंद होगा यातायात, ढाई माह तक डायवर्ट रहेगा ट्रैफिक

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। चौपला ओवर ब्रिज निर्माण को लेकर आ रही यातायात की बड़ी दिक्‍कत को दूर करने के लिए अब चौपुला ओवरब्रिज से...

एमएलसी चुनाव: धुंआधार चुनाव प्रचार में जुटे प्रत्याशी, भाजपा, सपा कांग्रेस में कड़ा मुकाबला, जनसम्‍पर्क अभियान तेज

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। एमएलसी चुनावों के प्रचार अभियान तेज हो गए हैं। बरेली मुरादाबाद स्‍नातक निर्वाचन खंड से प्रत्‍याशी चुनावों में विजयश्री पाने के...

गरमपानी-सालों बाद पंजाब से घर लौटे छोटे भाई को बड़े भाई ने परिवार समेत धूना, सिर पर लगे 25 टांके

गरमपानी-सालों बाद घर लौटे एक युवक पर उसी के भाई ने जानलेवा हमला कर दिया। मारपीट में छोटा भाई का पूरा परिवार घायल हो...

रुद्रपुर: हाइवे पर किसानों ने जमाया डेरा, बेहड़ ने समर्थन देकर कही यह बात

रुद्रपुर । किसान विरोधी अध्यादेशों के खिलाफ प्रदर्शन करने दिल्ली जा रहे तराई के किसानों को रुद्र बिलास चीनी मिल के पास पुलिस द्वारा...

उत्तराखंड में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत लगातार अलग-अलग विधानसभाओं में दौरा कर रहे हैं. हरीश रावत ने पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और जागेश्वर के विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल के विधानसभा क्षेत्र का दौरा किया.  उन्होंने बीजेपी सरकार पर कई बड़े प्रोजेक्ट रोकने का आरोप लगाया है । उन्होंने कहा की गरुणाबाज़ इलाके में मुंशी हरिप्रसाद टम्टा परंपरागत शिल्प उन्नयन संस्थान अल्मोड़ा के निर्माण के लिए उन्होंने स्वीकृति दी थी लेकिन जैसी सरकार बदली वहां पर काम भी रुक गया ।जबकि इसी कोरोनावायरस काल में परंपरागत शिल्प एवं शिल्पियों को प्रोत्साहन एवं संरक्षण देने के लिए सबसे पहला मास्टर ट्रेंनिंग इंस्टिट्यूट को तैयार कर स्थानीय लोगों को प्रदान किया जाता। इस इंस्टीट्यूट में पत्थरों से लेकर कई परंपरागत कलाकृतियों को तराशने के लिए यहां प्रशिक्षण दिया जाता लेकिन ऐसा नहीं होने से युवा इससे वंचित रह गए हैं। उन्हें न ही प्रशिक्षण मिल रहा है और न ही रोजगर। इस संस्थान की केवल बाउंडरी वाल का काम ही पूरा हो सका है जबकि प्रोजेक्ट 100 करोड़ से ऊपर का है।

Harish rawat with govind singh kunjwal

Related News

बरेली: डीडीपुरम के ग्रीन चिली रेस्टोरेंट में दर्जन भर किशोर पी रहे थे हुक्का पुलिस आई, फिर क्या‍ हुआ देखें यह खबर…

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बरेली के पाश इलाकों में रेस्‍टोरेंट की आड़ में हुक्‍का बार चलने पर रोक नहीं लग पा रही है । पुलिस...

बरेली: चौपला रूट पर सोमवार से बंद होगा यातायात, ढाई माह तक डायवर्ट रहेगा ट्रैफिक

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। चौपला ओवर ब्रिज निर्माण को लेकर आ रही यातायात की बड़ी दिक्‍कत को दूर करने के लिए अब चौपुला ओवरब्रिज से...

एमएलसी चुनाव: धुंआधार चुनाव प्रचार में जुटे प्रत्याशी, भाजपा, सपा कांग्रेस में कड़ा मुकाबला, जनसम्‍पर्क अभियान तेज

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। एमएलसी चुनावों के प्रचार अभियान तेज हो गए हैं। बरेली मुरादाबाद स्‍नातक निर्वाचन खंड से प्रत्‍याशी चुनावों में विजयश्री पाने के...

गरमपानी-सालों बाद पंजाब से घर लौटे छोटे भाई को बड़े भाई ने परिवार समेत धूना, सिर पर लगे 25 टांके

गरमपानी-सालों बाद घर लौटे एक युवक पर उसी के भाई ने जानलेवा हमला कर दिया। मारपीट में छोटा भाई का पूरा परिवार घायल हो...

रुद्रपुर: हाइवे पर किसानों ने जमाया डेरा, बेहड़ ने समर्थन देकर कही यह बात

रुद्रपुर । किसान विरोधी अध्यादेशों के खिलाफ प्रदर्शन करने दिल्ली जा रहे तराई के किसानों को रुद्र बिलास चीनी मिल के पास पुलिस द्वारा...

आर-पार: सिंधु बार्डर पर पथराव के बाद दिल्ली में घुसा किसान आंदोलन, फौज व सरकार झुकी, देखें यह खबर…

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। दिल्‍ली में किसानों के आंदोलन को रोकने की सरकार की सारी कोशिशें बेअसर हो गई हैं। हालात लगातार बेकाबू होते जा...