जनता कर्फ्यू: बरेली में जनता कर्फ्यू के दौरान देखने को मिल रहा कुछ ऐसा माहौल

बरेली: कोरोना वायरस (Corona Virus) को हराने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू (Janata Curfew) की अपील की थी। प्रधानमंत्री की इस अपील को लोगों को व्यापक समर्थन मिल रहा है। कोरोना वायरस जैसी बीमारी से बचने के लिए हर व्यक्ति हर तरह की कोशिश में लगा हुआ है। इसके चलते पूरे जिले की सड़कों (Roads) पर सन्नाटा सा पसरा हुआ है।
janta curfew in bareillyव्यापारियों ने इस पहल को सहारा देने के लिए अपना कारोबार एक दिन के लिए बंद करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवाहन सफल बनाने में उनका साथ दिया है। बरेली जिला पुलिस के अफसर लगातार क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं। इमरजेंसी (Emergency) में आए लोगों को रोककर उनसे पूछताछ करने के बाद उन्हें जाने दिया जा रहा है। जनता कर्फ्यू का असर बरेली में पूर्णता सफल नजर आ रहा है। कर्फ्यू के लगभग 5 घंटे हो चुके हैं लेकिन कोई आम आदमी सड़कों पर दिखाई नहीं दे रहा है।
janata curfewजनता के द्वारा लगाया गया कर्फ्यू का दौरा करने के लिए कमिश्नर (Commissioner) रणवीर प्रसाद और डीआईजी (DIG) अपनी टीम के साथ सड़कों पर निकले तो उन्होंने पाया की सड़कों पर सन्नाटा सा पसरा हुआ है। कमिश्नर रणधीर प्रसाद ने बताया कि कोरोना वायरस से बचने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल को जनता ने सर का ताज बनाया है। इसके लिए उन्होंने बरेली की जनता की तारीफ की है। वहीं डीआईजी श्री पांडे ने कहा कि यह जनता के द्वारा लगाया गया था जनता इस पर खरी उतरी है हमको किसी से कुछ कहने की आवश्यकता ही नहीं पड़ रही है। इस अवसर पर जनता को सहयोग के लिए उन्होंने बधाई दी है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें