चीन में फॉक्सकॉन की सबसे बड़ी आईफोन फैक्ट्री में कर्मचारियों का हिंसक विरोध प्रदर्शन

हांगकांग, 23 नवंबर (आईएएनएस)। चीन में फॉक्सकॉन की सबसे बड़ी आईफोन फैक्ट्री में हिंसक विरोध प्रदर्शन होने की खबर सामने आई है। रिपोर्ट के अनुसार, आईफोन आपूर्तिकर्ता फॉक्सकॉन के कर्मचारियों ने कोरोना काल में लगे लॉकडाउन के दौरान काम किया। मगर कंपनी उन्हें बोनस का भुगतान देरी से करना चाहती है, इसलिए कर्मचारी विरोध कर रहे थे। विरोध के दौरान कर्मचारी सुरक्षाबलों और कंपनी के अधिकारियों से भी भिड़ गए। मीडियो ने बुधवार को ये जानकारी दी है।
 | 
चीन में फॉक्सकॉन की सबसे बड़ी आईफोन फैक्ट्री में कर्मचारियों का हिंसक विरोध प्रदर्शन हांगकांग, 23 नवंबर (आईएएनएस)। चीन में फॉक्सकॉन की सबसे बड़ी आईफोन फैक्ट्री में हिंसक विरोध प्रदर्शन होने की खबर सामने आई है। रिपोर्ट के अनुसार, आईफोन आपूर्तिकर्ता फॉक्सकॉन के कर्मचारियों ने कोरोना काल में लगे लॉकडाउन के दौरान काम किया। मगर कंपनी उन्हें बोनस का भुगतान देरी से करना चाहती है, इसलिए कर्मचारी विरोध कर रहे थे। विरोध के दौरान कर्मचारी सुरक्षाबलों और कंपनी के अधिकारियों से भी भिड़ गए। मीडियो ने बुधवार को ये जानकारी दी है।

साउथ चाइना मॉनिर्ंग पोस्ट के अनुसार, मध्य चीन के झेंग्झौ में फॉक्सकॉन की आईफोन फैक्ट्री में हिंसक विरोध प्रदर्शन हुआ है। कंपनी पहले से ही कोरोना काल में लगे लॉकडान के दौरान से ही कर्मचारियों के पलायन का सामना कर रही है। लेटेस्ट समस्या हॉलिडे शॉपिंग सीजन से पहले एप्पल की सप्लाई चेन को और बाधा कर सकती है।

chaitanya

रिपोर्ट में कहा गया है, हफ्तों से लगे सख्त लॉकडाउन में काम कर रहे कर्मचारियों को जब मालूम हुआ कि कंपनी के द्वारा बोनस भुगतान में देरी होगी तो उन्होंने विरोध शुरू कर दिया। फॉक्सकॉन की ओर से बयान दिया गया है कि कारखाने में सार्वजनिक विरोध और हिंसा हुई थी।

कंपनी का कहना है कि वह इसी तरह की घटनाओं को दोबारा होने से रोकने के लिए कर्मचारियों और सरकार के साथ बातचीत जारी रखेंगे। बता दें कि विरोध प्रदर्शन के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायल हो रहे हैं। जिनमें सैकड़ों कार्यकर्ताओं को सड़क पर मार्च करते और हिंसा करते हुए देखा गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, बताया जा रहा है कि बोनस पाने के लिए कर्मचारियों को अब 15 मार्च तक रुकना होगा।

--आईएएनएस

फैयाज/एएनएम