Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश चीन और पाकिस्‍तान को लोहे के चने चबाने के लिए भारतीय सेना...

चीन और पाकिस्‍तान को लोहे के चने चबाने के लिए भारतीय सेना कर रही तैयारी, दी जा रही लेजर और रोबोटिक्‍स की ट्रेनिंग

CBSE Compartment exam 2020: इस तारीख को जारी होंगे सीबीएसई 12वीं कंपार्टमेंट परीक्षा के नतीजे

सीबीएसई 12वीं कंपार्टमेंट परीक्षा (Compartment Exams) के नतीजे 12 अक्टूबर तक जारी हो जाएंगे। यह जानकारी सीबीएसई ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) को दी...

BAREILLY:  जिले में फिल्‍म सिटी बनाने को लेकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कही ये बात 

बरेली: उत्‍तर प्रदेश में फिल्‍म सिटी (Film City) बनने जा रही है जिसका प्रस्‍ताव पास हो गया है। इसको को लेकर समाजवादी पार्टी (SP) के कार्यकर्ताओं ने आज...

CM योगी का बड़ा फैसला, अब इन अपराधियों के पोस्टर भी लगेंगे चौराहों पर

योगी सरकार (Yogi government) महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों को लेकर सख्त है। सरकार महिला सशक्तिकरण पर जोर दे रही है। अब सरकार के...

Bill Gates- महामारी खत्म होने के बाद भी घर से काम करेंगे कर्मचारी, जानें वजह

लॉकडाउन (lockdown) में घर से काम करने का चलन इतना ज्यादा हो गया कि लोग ऑफिस (office) जाना ही भूल गए। लेकिन अच्छी बात...

भारत-चीन के तनाव के बीच रक्षामंत्री आज इतने पुलों का करेंगे उद्घाटन, होगा ये फायदा

पिछले कई दिनों से भारत और चीन (India and China) के बीच सीमा को लेकर विवाद चल रहा है। इसी कारण भारत अपनी सीमाएं...

भारतीय सीमा पर चीन और पाकिस्‍तान के नापाक इरादों को देखते हुए भारतीय सेना (Indian Army) अब युद्ध में अत्‍यआधुनिक तकनीक का इस्‍तेमाल करना सीखेंगी। ड्रैगन को उसी की भाषा में जवाब देने के लिए भारतीय सेना बम-बंदूक-टैंक वाली अब पारंपरिक युद्ध तकनीकों (Traditional warfare techniques) के साथ-साथ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, माइक्रो सैटेलाइट्स, लेजर, रोबोटिक्स जैसे भविष्य की युद्ध रणनीतियों पर काम कर रही है।

Indian-Armyमीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार भारतीय फौज अब जिन तकनीकों पर स्टडी करने वाली है, उनमें ड्रोन स्वार्म से लेकर एल्गोरिद्मिक वॉरफेयर (Algorithmic warfare) तक शामिल हैं। इस स्टडी का मकसद आर्मी को ‘नॉन-काइनेटिक और नॉन-कॉम्बैट’ वॉरफेयर के लिए तैयार करना है। इस स्टडी में रोबोटिक्स, डायरेक्टेड-एनर्जी वेपंस, रिमोटली-पायलटेड एरियल सिस्टम्स, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, ड्रोन स्वार्म्स, बिग डेटा एनालिसिस, ब्लॉकचेन तकनीक, वर्चुअल रिएलिटी, ऑगमेंटेंड रिएलिटी, एल्गोरिद्मिक वॉरफेयर, हाइपरसॉनिक इनेबल्ड लॉन्ग रेंज प्रिंसिजन फायरिंग सिस्टम, क्वांटम कम्प्यूटिंग (Quantum computing) जैसी तकनीक पर रिसर्च की जाएगी।

http://www.narayan98.co.in/

Uttarakhand Government

Narayan College

https://youtu.be/yEWmOfXJRX8

Related News

CBSE Compartment exam 2020: इस तारीख को जारी होंगे सीबीएसई 12वीं कंपार्टमेंट परीक्षा के नतीजे

सीबीएसई 12वीं कंपार्टमेंट परीक्षा (Compartment Exams) के नतीजे 12 अक्टूबर तक जारी हो जाएंगे। यह जानकारी सीबीएसई ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) को दी...

BAREILLY:  जिले में फिल्‍म सिटी बनाने को लेकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कही ये बात 

बरेली: उत्‍तर प्रदेश में फिल्‍म सिटी (Film City) बनने जा रही है जिसका प्रस्‍ताव पास हो गया है। इसको को लेकर समाजवादी पार्टी (SP) के कार्यकर्ताओं ने आज...

CM योगी का बड़ा फैसला, अब इन अपराधियों के पोस्टर भी लगेंगे चौराहों पर

योगी सरकार (Yogi government) महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों को लेकर सख्त है। सरकार महिला सशक्तिकरण पर जोर दे रही है। अब सरकार के...

Bill Gates- महामारी खत्म होने के बाद भी घर से काम करेंगे कर्मचारी, जानें वजह

लॉकडाउन (lockdown) में घर से काम करने का चलन इतना ज्यादा हो गया कि लोग ऑफिस (office) जाना ही भूल गए। लेकिन अच्छी बात...

भारत-चीन के तनाव के बीच रक्षामंत्री आज इतने पुलों का करेंगे उद्घाटन, होगा ये फायदा

पिछले कई दिनों से भारत और चीन (India and China) के बीच सीमा को लेकर विवाद चल रहा है। इसी कारण भारत अपनी सीमाएं...

COVID-19: सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल को दी मंजूरी, यूपी के इन शहरों में होगा ट्रायल

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) के तीसरे चरण के ट्रायल की अनुमति दे दी है। भारत बायोटेक (Bharat...