चीनी राजदूत ने 30 से अधिक देशों की ओर से मानवाधिकार परिषद में संयुक्त भाषण दिया

बीजिंग, 22 सितम्बर (आईएएनएस)। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 51वें सत्र में 21 सितंबर को आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक अधिकारों और विकास के अधिकार सहित विषयगत मानवाधिकार मुद्दों पर एक आम बहस हुई। जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय और स्विट्जरलैंड में अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठनों में स्थित चीन के स्थायी प्रतिनिधि छेन श्वी ने 30 से अधिक देशों की ओर से संयुक्त भाषण दिया। उन्होंने विभिन्न पक्षों से जन-केंद्रित होने पर कायम रहने, आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक अधिकारों के संवर्धन और संरक्षण और असमानताओं का अंत करने में अधिक शक्ति लगाने, अंतरराष्ट्रीय कानून में कोई आधार नहीं होने वाले एकतरफा प्रतिबंधों का विरोध करने की अपील की।
 | 
चीनी राजदूत ने 30 से अधिक देशों की ओर से मानवाधिकार परिषद में संयुक्त भाषण दिया बीजिंग, 22 सितम्बर (आईएएनएस)। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 51वें सत्र में 21 सितंबर को आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक अधिकारों और विकास के अधिकार सहित विषयगत मानवाधिकार मुद्दों पर एक आम बहस हुई। जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय और स्विट्जरलैंड में अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठनों में स्थित चीन के स्थायी प्रतिनिधि छेन श्वी ने 30 से अधिक देशों की ओर से संयुक्त भाषण दिया। उन्होंने विभिन्न पक्षों से जन-केंद्रित होने पर कायम रहने, आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक अधिकारों के संवर्धन और संरक्षण और असमानताओं का अंत करने में अधिक शक्ति लगाने, अंतरराष्ट्रीय कानून में कोई आधार नहीं होने वाले एकतरफा प्रतिबंधों का विरोध करने की अपील की।

संयुक्त भाषण में कहा गया है कि कोरोना महामारी ने वैश्विक विकास को हिला दिया है, सतत विकास के लिए संयुक्त राष्ट्र के 2030 एजेंडा के कार्यान्वयन में बाधा उत्पन्न की है, और देशों में और देशों के बीच असमानता बढ़ गयी है। यह आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक अधिकारों को बढ़ावा देने और असमानताओं को दूर करने के महत्व को दर्शाता है।

chaitanya

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

--आईएएनएस

एएनएम