कोरोना का कहर: मुंबई नगर पालिका का आदेश, कोरोना संक्रमित सभी शवों का होगा अंतिम संस्‍कार

न्‍यूज टुडे नेटवर्क
मुंबई में सोमवार शाम तक कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 75 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग की टीम लोगों की जांच कर रही है। सोमवार शाम बृहन्मुंबई महानगरपालिका ने सोमवार को ऐलान किया कि कोरोना से संक्रमित मृतकों का अंतिम संस्कार उनके धर्म के अनुसार नहीं किया जाएगा। शवों का अंतिम संस्‍कार शवदाह गृह में किया जाएगा। उन्‍हें दफनाया नहीं जाएगा।
bmcबृहन्मुंबई नगर निगम के आयुक्त प्रवीण परदेशी ने कहा, ‘यदि कोई शव को दफनाने के लिए जोर देता है, तो उन्हें केवल तभी अनुमति दी जाएगी जब शव को मुंबई शहर के अधिकार क्षेत्र से बाहर ले जाया जाएगा। मुंबई में अब तक 8 लोगों की कोरोना के चलते मृत्यु हो चुकी है। परदेसी के मुताबिक, जो शख्स इस नियम का उल्लंघन करेगा उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जायेगी। कोरोना संक्रमित शख्स के शरीर को पास के शवदाह गृह में अंतिम संस्कार किया जाएगा। हॉस्पिटल से उसकी बॉडी को एक खास तरह के बैग में भरकर वहां लाया जाएगा और उसे बिना खोले अंतिम संस्कार कर दिया जाएगा।

वर्ली में भी दो सोसाइटी सील
कोरोना संक्रमित मिलने की जानकारी मिलने के बाद वर्ली इलाके में दो कॉलोनियों को सील कर दिया गया और संक्रमण मुक्त बनाने के लिए छिड़काव अभियान चलाया गया। स्थानीय विधायक और महाराष्ट्र के मंत्री आदित्य ठाकरे ने इस बारे में ट्वीट किया है । आदित्य ठाकरे ने ट्वीट किया, कल रात दो बजे से कोलिवाडा और जनता कॉलोनी सील कर दी गयी है। संक्रमण मुक्त बनाने के लिए अभियान चलाया जा रहा है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें