Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश ऐतिहासिक धरोहरों को संजोगी रुहेलखंड यूनिवर्सिटी

ऐतिहासिक धरोहरों को संजोगी रुहेलखंड यूनिवर्सिटी

SSR Case: सुशांत के वकील ने किया ये बड़ा दावा, फिर रिया चक्रवर्ती के वकील ने दी यह प्रतिक्रिया

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) में एक नया मोड़ आ गया है। सुशांत के परिवार के वकील विकास सिंह (Vikas Singh)...

Panchayat Election 2020: प्रदेश में तेज कोई पंचायत चुनाव की तैयारियां, इस तारीख को जारी होगी मतदाता सूची

प्रदेश में पंचायत चुनाव की तैयारियां तेजी से चल रहे हैं। जिला निर्वाचन अधिकारियों (District Election Officers) ने बीएलओ की जिम्मेदारी तय कर ली...

दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर और सारा अली खान पर एनसीबी कर रही है सवालों की बौछार

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) से जुड़े ड्रग्स मामले की जांच कर रहे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने बॉलीवुड में ड्रग्स...

MJPR University: विवि में जल्द बनेगा बड़ा शोध केंद्र, इस समस्या का होगा समाधान

रुहेलखंड विश्वविद्यालय (Rohilkhand University) में नए कुलपति आने के बाद शोध कार्य पर काफी ध्यान दिया जा रहा है। विश्वविद्यालय में अब बड़े शोध...

Bareilly: इन लोगों का काटा जाएगा बिजली कनेक्शन, कहीं आप भी तो नहीं है इसके दायरे में

बिजली विभाग (electricity department) ने अब लंबे समय से बिल न जमा करने वालों पर तंजा कसा है। ब्रेकडाउन (breakdown) को कम करने के...

बरेली: रुहेलखंड रीजन की ऐतिहासिक धरोहरों (Historical Heritage) को संजोने की जिम्मेदारी रुहेलखंड यूनिवर्सिटी (Rohilkhand University) को सौंपी गई है। ऐतिहासिक ध़रोहरों में पर्यटन (Tourism) की संभावनाओं का भी पता लगाया जाएगा। इसके लिए यूनिवर्सिटी ने जगह चुनने का सर्वे (Survey) शुरू कर दिया है। मार्च के अंत तक यूनिवर्सिटी शासन (Governance) को यह रिपोर्ट सौंप देगी।
rohilkhand universityरुहेलखंड यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट विभाग (Management Department) ने शासन से सेंटर ऑफ एक्सीलेंस (Center of Excellence) के तहत यह प्रोजेक्ट (Project) मांगा था। इस प्रोजेक्ट के लिए शासन ने छह लाख रुपये  स्वीकृत कर दिए हैं। यूनिवर्सिटी  को बरेली, मुरादाबाद, शाहजहांपुर, बिजनौर, पीलीभीत, बदायूं, रामपुर, संभल और अमरोहा में टूरिस्ट स्पॉट का चयन करना है। मैनेजमेंट विभाग के हेड व डीन प्रो. पीबी सिंह ने बताया कि पहले उनकी टीम यह पता लगाएगी की किन जगहों को टूरिज्म स्पॉट के रूप में विकसित किया जा सकता है। इन जगहों में बरेली में अहिच्छत्र, खान बहादुर खान की मजार, कल्लू नज्जू का मकबरा और महाभारत कालीन किला है।

रामपुर, बिजनौर, मुरादाबाद, पीलीभीत और बदायूं में भी कई ऐसे ऐतिहासिक स्थान है जिनको जिसको टूरिस्ट स्पॉट के रूप में विकसित किया जा सकता है। पुराने अज्ञात मंदिर प्राचीन इमारतों को भी खोजा जाएगा और देखा जाएगा कि स्थानों को टूरिस्ट स्पॉट के रूप में विकसित कर दिया जाए तो वहां लोगों वहां क्यों आये इस स्थिति का भी विश्लेषण किया जायेगा। इसके बाद ही यूनिवर्सिटी रिपोर्ट तैयार करके शासन को भेजेंगी।

Related News

SSR Case: सुशांत के वकील ने किया ये बड़ा दावा, फिर रिया चक्रवर्ती के वकील ने दी यह प्रतिक्रिया

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) में एक नया मोड़ आ गया है। सुशांत के परिवार के वकील विकास सिंह (Vikas Singh)...

Panchayat Election 2020: प्रदेश में तेज कोई पंचायत चुनाव की तैयारियां, इस तारीख को जारी होगी मतदाता सूची

प्रदेश में पंचायत चुनाव की तैयारियां तेजी से चल रहे हैं। जिला निर्वाचन अधिकारियों (District Election Officers) ने बीएलओ की जिम्मेदारी तय कर ली...

दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर और सारा अली खान पर एनसीबी कर रही है सवालों की बौछार

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) से जुड़े ड्रग्स मामले की जांच कर रहे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने बॉलीवुड में ड्रग्स...

MJPR University: विवि में जल्द बनेगा बड़ा शोध केंद्र, इस समस्या का होगा समाधान

रुहेलखंड विश्वविद्यालय (Rohilkhand University) में नए कुलपति आने के बाद शोध कार्य पर काफी ध्यान दिया जा रहा है। विश्वविद्यालय में अब बड़े शोध...

Bareilly: इन लोगों का काटा जाएगा बिजली कनेक्शन, कहीं आप भी तो नहीं है इसके दायरे में

बिजली विभाग (electricity department) ने अब लंबे समय से बिल न जमा करने वालों पर तंजा कसा है। ब्रेकडाउन (breakdown) को कम करने के...

UP BOARD: यूपी बोर्ड इन कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए बना रहा है वेब पोर्टल, मिलेंगी ये सुविधाएं

यूपी बोर्ड (UP Board) प्रदेश के 28 हजार से अधिक स्कूलों में कक्षा 9 से 12वीं तक के विद्यार्थियों की ऑनलाइन पढ़ाई (Online Study)...