एंथोनी फौची को जान से मारने की धमकी देने वाले शख्स को 37 महीने की जेल

वाशिंगटन, 6 अगस्त (आईएएनएस)। वेस्ट वर्जीनिया के एक व्यक्ति ने कोविड-19 महामारी के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति के मुख्य चिकित्सा सलाहकार के रूप में काम कर रहे एंथोनी फौची को जान से मारने की धमकी देने वाले व्यक्ति को तीन साल से अधिक जेल की सजा सुनाई गई है। न्याय विभाग ने यह जानकारी दी।
 | 
एंथोनी फौची को जान से मारने की धमकी देने वाले शख्स को 37 महीने की जेल वाशिंगटन, 6 अगस्त (आईएएनएस)। वेस्ट वर्जीनिया के एक व्यक्ति ने कोविड-19 महामारी के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति के मुख्य चिकित्सा सलाहकार के रूप में काम कर रहे एंथोनी फौची को जान से मारने की धमकी देने वाले व्यक्ति को तीन साल से अधिक जेल की सजा सुनाई गई है। न्याय विभाग ने यह जानकारी दी।

डीपीए समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, विभाग ने शुक्रवार को कहा कि थॉमस पैट्रिक कॉनली जूनियर (57), संघीय जेल में 37 महीने रहेंगे। इसके बाद देश के संक्रामक रोग विशेषज्ञ और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शयस डिजीज के प्रमुख को भेजे गए एन्क्रिप्टेड ईमेल के लिए तीन साल की निगरानी में रहेंगे।

chaitanya

कॉनली ने एक याचिका समझौते में कबूल किया कि उसने फौची को अवांछित ईमेल भेजा था।

एक मेल में उसने कहा था कि फौची उनके परिजनों के साथ सड़क पर घसीटा जाएगा, पीट-पीटकर मार डाला जाएगा और आग के हवाले कर दिया जाएगा।

अप्रैल 2021 में, कॉनली ने देश के शीर्ष इम्यूनोलॉजिस्ट फौची को आधा दर्जन से अधिक ईमेल भेजे।

मैरीलैंड डिस्ट्रिक्ट के यूएस अटॉर्नी एरेक बैरोन ने कहा, इस तरह की धमकियों के लिए मुकदमा चलाया जाएगा।

कहा जाता है कि, फौची कई स्वास्थ्य अधिकारियों में से एक थे, जिन्हें कॉनली ने धमकी दी थी।

--आईएएनएस

पीजेएस/एसकेपी