PMS Group Venture haldwani

उधमसिंहनगर-कड़ाके की ठंड में,भगवान को लोगों ने पहना है कपड़े,तो बंदर ने ठंड से बचने के लिए करा कुछ ऐसा,देखिए

किच्छा-जहाँ  पहाड़ी इलाको में वर्फ़बारी से ठंड अपना सितम ढहा रही है तो मैदानी क्षेत्र भी इस कहर कम नही हैं। कड़ाके की इस ठंड में इंसान ही नहीं बल्कि भगवान भी परेशान हैं। भक्तों ने भगवान को भी ठंड से बचाने के लिए मंदिरों में गर्म कपड़े और हीटर के इंतजाम किए गए है, तो वहीं इंसान तो इंसान जानवरो को भी ठंड सता रही है एक बंदर ठंड को दूर करने के लिये हीटर के पास आ बैठा

जी हां यह बात सुनने में आपकों अजीब जरूर लग रही होगी पर इन दिनों जनपद ऊधमसिंहनगर में पड़ रहे कड़ाके की ठंड के प्रकोप से भगवान को बचाने के लिए पुजारी भगवान की मूर्तियों को भी गर्म कपड़े और स्वेटर धारण कराने के साथ ही भगवान की मूर्तियों के समक्ष हीटर भी जला रहे है यहां के कई मंदिरों में भगवान को ठंड से बचाने के लिए कंबल और ऊनी वस्त्र  भी पहनाए गए है और तो और कई मंदिरों में भगवान को ठंड से बचाने के लिए अंगीठी और हिटर भी लगाए गए है।

ठंड लगे तो बंदर पहुंचा हीटर पर

उत्तराखंड के पहाड़ी इलाको में बर्फ़बारी के बाद अब मैदानी इलाको में ठण्ड का कहर जारी है ऊधमसिंहनगर में इन दिनों पड़ रहे भीषण कोहरे- धुंध और शीतलहरी के प्रकोप के इंनसानों के साथ-साथ जानवर भी किस कदर परेशान है हो रहे है इसका ताजा उदाहरण किच्छा में देखने को मिला है। देखिए यहां किस तरह से कोहरे और धुंध के इस मौसम में किच्छा के रेलवे स्टेशन के पास ठंड से बचने के लिए एक बंदर भी हिटर की गर्मी लेने के लिए मौके पर पंहुच गया और ठंड से बचने के लिए ये बंदर यहां काफी देर तक हीटर के पास दुबक कर बैठा रहा.बाद में मौके पर मौजूद लोगों ने ठंड से परेशान इस बंदर को केला भी खिलाया।

Coronavirus vaccine) वैज्ञानिकों ने ढूँढ निकाला कोरोना का सबसे सस्ता इलाज, 100 रुपए में ऐसे होगा कोरोना की जाँच