अल्वा ने धनखड़ को उपराष्ट्रपति चुने जाने पर बधाई दी

नई दिल्ली, 6 अगस्त (आईएएनएस)। उपराष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष की उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा ने शनिवार को उप-राष्ट्रपति चुनाव में राजग समर्थित उम्मीदवार जगदीप धनखड़ के विजयी होने पर उन्हें बधाई दी।
 | 
अल्वा ने धनखड़ को उपराष्ट्रपति चुने जाने पर बधाई दी नई दिल्ली, 6 अगस्त (आईएएनएस)। उपराष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष की उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा ने शनिवार को उप-राष्ट्रपति चुनाव में राजग समर्थित उम्मीदवार जगदीप धनखड़ के विजयी होने पर उन्हें बधाई दी।

उन्होंने कहा, चुनाव संपन्न हो गया है। हमारे संविधान की रक्षा करने, लोकतंत्र को मजबूत बनाने और संसद की गरिमा बहाल करने के लिए संघर्ष जारी रहेगा।

उन्होंने विपक्ष के सभी नेताओं और इस चुनाव में उन्हें वोट देने वाले सभी दलों के सांसदों और सभी स्वयंसेवकों को उनकी निस्वार्थ सेवा के लिए धन्यवाद दिया।

chaitanya

अल्वा ने कहा, मैं विपक्ष के उन सभी नेताओं और सांसदों का आभार जताती हूं, जिन्होंने इस चुनाव में मुझे वोट किया। मैं उन सभी स्वयंसेवियों को भी धन्यवाद देना चाहती हूं, जिन्होने इस छोटे, लेकिन गहन चुनाव प्रचार के दौरान अपनी नि:स्वार्थ सेवा दी।

उन्होंने कहा कि चुनाव विपक्ष के लिए एक साथ काम करने, अतीत को पीछे छोड़ने और एक-दूसरे के बीच विश्वास बनाने का अवसर है।

विपक्षी उम्मीदवार ने कहा कि भाजपा का प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से समर्थन करके, कुछ दलों और उनके नेताओं ने अपनी विश्वसनीयता को नुकसान पहुंचाया है।

उन्होंने कहा, दुर्भाग्य से, कुछ विपक्षी दलों ने एकजुट विपक्ष के विचार को पटरी से उतारने के प्रयास में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से भाजपा का समर्थन करना चुना। मेरा मानना है कि ऐसा करके इन दलों और उनके नेताओं ने अपनी विश्वसनीयता को नुकसान पहुंचाया है।

चुनाव आयोग ने शनिवार को मतगणना के बाद एक संवाददाता सम्मेलन में पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल जगदीप धनखड़ की जीत की घोषणा की।

मौजूदा उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है। नए उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए संसद के दोनों सदनों के सदस्यों ने शनिवार को देश के अगले उपराष्ट्रपति का चुनाव करने के लिए मतदान किया।

उपराष्ट्रपति चुनाव के रिटनिर्ंग ऑफिसर उत्पल कुमार सिंह ने कहा कि कुल 780 मतदाताओं में से केवल 725 ने उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान किया। कुल 725 मतों में से 15 मत अवैध और 710 मत वैध पाए गए।

चुनाव आयोग के अनुसार, धनखड़ को कुल 528 प्रथम वरीयता वोट मिले, जबकि अल्वा को केवल 182 वोट मिले।

इस बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी धनखड़ को बधाई दी।

उन्होंने एक ट्वीट में कहा, जगदीप धनखड़ को भारत के उपराष्ट्रपति के रूप में चुने जाने पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं।

उन्होंने कहा, राजस्थान के लोग खुश हैं कि जगदीप धनखड़, भैरों सिंह शेखावत के बाद राजस्थान से दूसरे उपराष्ट्रपति बने हैं।

--आईएएनएस

एकेके/आरएचए