अमेरिकी अधिकारियों को है डर, पुतिन यूक्रेन में अपरंपरागत हथियारों का इस्तेमाल करेंगे

लंदन, 24 नवंबर (आईएएनएस)। अमेरिकी अधिकारियों को डर है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन में बड़े पैमाने पर रासायनिक हथियारों के हमलों में नोविचोक का इस्तेमाल कर सकते हैं। एक मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।
 | 
अमेरिकी अधिकारियों को है डर, पुतिन यूक्रेन में अपरंपरागत हथियारों का इस्तेमाल करेंगे लंदन, 24 नवंबर (आईएएनएस)। अमेरिकी अधिकारियों को डर है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन में बड़े पैमाने पर रासायनिक हथियारों के हमलों में नोविचोक का इस्तेमाल कर सकते हैं। एक मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

डेली मेल के मुताबिक, जैसा कि युद्ध की प्रगति कीव के पक्ष में तेजी से बढ़ रही है, आशंकाएं बढ़ रही हैं कि रूस यूक्रेन को आत्मसमर्पण के लिए मजबूर करने खातिर और उपाय कर सकता है - जैसे परमाणु हमला करना या एक गंदे बम से हमला करना।

लेकिन मामले की जानकारी रखने वाले छह लोगों के अनुसार, नाटो के साथ परमाणु टकराव का सहारा लेने से पहले पुतिन बड़े पैमाने पर हताहत होने की घटना में रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल करने के लिए तैयार हैं।

chaitanya

पोलिटिको द्वारा उद्धृत सूत्रों के अनुसार, राष्ट्रपति जो बाइडेन का प्रशासन यह सुनिश्चित करने के लिए काम कर रहा है कि उसके पश्चिमी सहयोगी इस तरह के हमले के लिए तैयार रहें।

सूत्रों ने कहा कि वाशिंगटन भविष्यवाणी करता है कि रूस युद्ध के मैदान पर और नुकसान होने या पुतिन की सेना के कुल पतन की स्थिति में रासायनिक हथियारों का उपयोग करेगा।

डेली मेल के अनुसार, इस तरह के हमले के लिए रणनीति बनाने वाले शीर्ष अमेरिकी अधिकारियों का मानना है कि मास्को उन रासायनिक हथियारों को तैनात कर सकता है, जिन्हें रूस अतीत में इस्तेमाल करने के लिए जाना जाता है। इसके अलावा विपक्षी नेता अलेक्सी नवलनी और पूर्व रूसी सैन्य खुफिया अधिकारी सर्गेई स्क्रिपल को (सैलिसबरी, ब्रिटेन में) जहर दिया गया था।

दोनों को नोविचोक नर्व एजेंट से जहर दिया गया था और उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालांकि, वे दोनों हमले में बाल-बाल बच गए।

अतीत में रूस द्वारा व्यक्तियों को लक्षित करने के लिए तंत्रिका एजेंट का उपयोग किया गया था। अमेरिकी अधिकारियों ने कहा है कि इसका उपयोग बड़े पैमाने पर हिंसक घटना को अंजाम देने के लिए भी किया जा सकता है।

कुछ रसायनों को एक एरोसोल में बदला जा सकता है या एक बड़े क्षेत्र और लोगों के एक बड़े समूह को विनाशकारी क्षति पहुंचाने के लिए गोला-बारूद का उपयोग किया जा सकता है।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम